वो ही भाजपा छोड़कर गए, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर बोले- जिनका जनाधार घट गया था, - Ideal India News

Post Top Ad

वो ही भाजपा छोड़कर गए, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर बोले- जिनका जनाधार घट गया था,

Share This
#IIN

वो ही भाजपा छोड़कर गए, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर बोले- जिनका जनाधार घट गया था, 


वाराणसी Bhupendra Agrahari,


-】

काशी क्षेत्र के 5322 शक्ति केंद्रों पर खिचड़ी सहभोज का आयोजन

सामाजिक समरसता का संदेश देने के लिए भाजपा काशी क्षेत्र की ओर से शुक्रवार को 5322 शक्ति केंद्रों पर खिचड़ी सहभोज का आयोजन किया गया। इसमें भाजपा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति सहित पिछड़े समाज के लोगों ने भाग लिया।

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के सिद्धांतों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा काशी क्षेत्र अध्यक्ष महेश चंद श्रीवास्तव ने कहा कि पार्टी की ओर से लाभार्थी संपर्क अभियान चलाया जा रहा है।

वर्ग विशेष का नाम लेकर पार्टी छोड़ने को बहाना करार देते हुए कहा कि अगर ऐसा वे महसूस कर रहे थे तो उन्हें पहले ही पार्टी छोड़ देनी चाहिए थी। वर्ग विशेष की बात को औचित्यहीन बताते हुए कहा कि क्षेत्र में लगातार अनुपस्थिति के कारण उनके प्रति नाराजगी भी थी। ऐसे लोगों के जाने से पार्टी पर कोई प्रभाव नही पड़ेगा।  

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले भारतीय जनता पार्टी के नेता पार्टी छोड़ रहे हैं। पार्टी के कई बड़े चेहरों ने इस्तीफा दे दिया है। इस बीच पार्टी छोड़कर जाने वालों पर उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने तंज कसा है। वाराणसी के शिवपुर में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने हाल ही पार्टी छोड़कर गए नेताओं पर निशाना साधा।

300 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेगी भाजपा
अनिल राजभर ने विश्वास जताया कि पार्टी छोड़ने वाले नेताओं के क्षेत्रों में भाजपा पहले से अधिक वोटों से जीत दर्ज करेगी। मोदी और योगी की डबल इंजन सरकार की योजनाओं का लाभ जनता को मिल रहा है। आगामी चुनाव में भाजपा 300 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेगी।

कहा कि जो नेता भाजपा छोड़ कर गए हैं, उनका खुद का जनाधार घट गया था। पार्टी इसपर रणनीति बना चुकी थी। इसकी भनक लगने के कारण अवसरवादी नेताओं ने पार्टी से किनारा करने में भलाई समझी।  मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी द्वारा गरीबों के कल्याण के काम से भाजपा के प्रति लोगों का विश्वास बढ़ा है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad