स्कूल, कॉलेज व विवि के बीच कम करें दूरी, पद्मश्री प्रो. धांडे का शिक्षकों से आह्वान, स्कूलों में भी क्लास लें प्रोफेसर, - Ideal India News

Post Top Ad

स्कूल, कॉलेज व विवि के बीच कम करें दूरी, पद्मश्री प्रो. धांडे का शिक्षकों से आह्वान, स्कूलों में भी क्लास लें प्रोफेसर,

Share This
#IIN

स्कूल, कॉलेज व विवि के बीच कम करें दूरी, पद्मश्री प्रो. धांडे का शिक्षकों से आह्वान, स्कूलों में भी क्लास लें प्रोफेसर, 


Lucknow-》 Hariom Singh Swaraj, 


-】 उन्होंने कहा कि मैं भी स्कूल में क्लास लेता था और फिजिक्स के विशेषज्ञ प्रो. फेनिमन भी स्कूल में पढ़ाते थे। यहां के कुलपति को भी इस दिशा में पहल करनी चाहिए। उन्होंने डिग्री प्राप्त करने वाले मेधावियों से कहा कि आज से आप एक नए विश्वविद्यालय में प्रवेश कर रहे हैं। जहां जीवन भर सीखना (लाइफ लांग लर्निंग) होगा। यह वह जगह है जहां कोई परीक्षा नहीं है, कोई अंक नहीं है, कोई प्रमाण पत्र नहीं है। किंतु यहां सभी छात्र अनुभवों से सीखेंगे।

आईआईटी कानपुर के पूर्व निदेशक पद्मश्री प्रो. एसजी धांडे ने प्राथमिक व उच्च शिक्षा में समन्वय की बात कही है। उन्होंने कहा है कि हर विश्वविद्यालय-कॉलेजों के शिक्षकों को कुछ समय अपने पास के स्कूल में पढ़ाना चाहिए। इसका बहुत असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी के बीच की दूरी कम की जानी चाहिए। वे डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) के दीक्षांत समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

प्रो. धांडे ने कहा कि कोविड के बाद काफी बदलाव हुए हैं। इस बदलते दौर में कुछ कौशल अप्रचलित हो जाते हैं और कुछ कौशल नए हो जाते हैं। अपने दम पर नए कौशल पाना ही वास्तविक कौशल है। जिसकी आज दुनिया को जरूरत है। उन्होंने एकलव्य का उदाहरण देते हुए कहा कि आज ‘डिजिटल एकलव्य’ की जरूरी है। ऐसे व्यक्ति में सीखने की भूख, अनुशासन, अभ्यास, अनुभव जरूरी है। अभ्यास मनुष्य को संपूर्ण बनाता है। अनुभव जीवन का एक महान शिक्षक है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad