मरहूम वसीउल्लाह अंसारी की याद में शोक सभा संम्पन्न, - Ideal India News

Post Top Ad

मरहूम वसीउल्लाह अंसारी की याद में शोक सभा संम्पन्न,

Share This
#IIN

मरहूम वसीउल्लाह अंसारी की याद में  शोक सभा संम्पन्न,

रियाजु्ल हक




जौनपुर। 24 नवम्बर, बुधवार को मदरसा दारुल इरफान के पूर्व प्रिसिपल व  इंटेलेक्चुअल पब्लिक स्कूल  के प्रबंधक वसीउल्लाह अंसारी के आकस्मिक निधन पर मदरसा दारुल इरफान ,बोदकरपुर  के प्रांगण में शोक सभा का आयोजन किया गया। शोक सभा की अध्यक्षता मौलाना मुर्तजा कासमी मदनी ने  किया, इस अवसर पर मौलाना  मुर्तजा मदनी ने दिवंगत के जीवन और उनके सेवाओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि
 एक दिन हर कोई इस दुनिया को छोड़ देता है इसलिए हम में से हर एक को अच्छे कर्म करके इस दुनिया को छोड़ देना चाहिए । ततपश्चात मौलाना जकाउल्लाह फैजी ने कहा कि हर व्यक्ति की मृत्यु का समय निश्चित होता है।  इसके बाद मास्टर समीउल्लाह फलाही ने कहा कि दिवंगत को सबसे अच्छी श्रद्धांजलि उनके द्वारा स्थापित दो शिक्षण संस्थानों के मिशन को आगे बढ़ाना होगा।उन्होंने शैक्षिक जागरूकता लाने में एक बड़ी भूमिका निभाई। वसीउल्लाह अंसारी अपने पीछे भरा पूरा परिवार  में पत्नी , तीन  बेटे  आरिफ अंसारी, सफीउल्लाह अंसारी, सिबगतुल्लाह अंसारी व एक बेटी उम्म-ए- सलमा को छोड़ गए।
पारिवारिक सूत्रों के अनुसार  वसीउल्लाह अंसारी का 18 नवम्बर गुरुवार की शाम में उनके बोदकरपुर  निवास पर आकस्मिक निधन हो गया था। 
 शोक सभा में   मौलाना मुर्तजा कासमी मदनी, शाहीन आरा, गुलशेर (पिंटू),  मौलाना जकाउल्लाह,मौलाना नुरुल हुदा, मौलाना मोहम्मद सरफराज सलफी, रियाजुल हक़, समीउल्लाह,मास्टर अब्दुल्ला, मास्टर मोहम्मद अकबर, आरिफ , सफीउल्लाह, सिबगतुल्लाह, शमशाद, तारिक, अब्दुर्रहीम उर्फ बाबू सहित मदरसा के समस्त शिक्षक , कर्मचारी एवं आदि लोग उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad