अपने बच्चों को दीनी तालीम के साथ साथ दुनियावी शिक्षा भी दें बच्चे के एक हाथ मे क़ुरआन और दूसरे हाथ मे लैपटॉप होना चाहिए;-कमर अली - Ideal India News

Post Top Ad

अपने बच्चों को दीनी तालीम के साथ साथ दुनियावी शिक्षा भी दें बच्चे के एक हाथ मे क़ुरआन और दूसरे हाथ मे लैपटॉप होना चाहिए;-कमर अली

Share This
#IIN 

शरद कपूर काजिम हुसैन सीतापुर

अपने बच्चों को दीनी तालीम के साथ साथ दुनियावी शिक्षा भी दें बच्चे के एक हाथ मे क़ुरआन और दूसरे हाथ मे लैपटॉप होना चाहिए;-कमर अली





खैराबाद।सीतापुर, उत्तरप्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद के सदस्य श्री क़मर अली एक दिवसीय सरकारी दौरे पर सीतापुर मुख्यालय पहुंच कर शासन प्रशासन की बात करके क़स्बा खैराबाद की ऐतिहासिक दरगाह हज़रत बड़े मखदूम साहब  अलैहिर्रहमा में हाजिरी देने पहुंचे जहां पहुंच कर दरगाह पर चादर चढ़ाई तथा मुल्क में अमन शान्ति के लिए दुआ की तथा सज्जादानशीन नजमुल हसन शोएब मियां ने चादर पेश करके आशीर्वाद दिया इसके बाद दरगाह हाफ़िज़िया असलमिया में हाजिरी दी ततपश्चात सूफी दर क़ारी इस्लाम अहमद आरफ़ी के निवास पर गए और वहां से आकर डॉ कामिल सिद्दीकी के द्वारा आयोजित धर्म गुरुओं की बैठक कर पार्टी की नीतियों और मदरसा बोर्ड की उपलब्धियों को गिनाया तथा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अल्पसंख्यको के लिए चलाई जा रही योजनाओं को विस्तार से बताया श्री अली ने सम्बोधित करते हुए कहा कि अपने बच्चों को सिर्फ हाफ़िज़ आलिम क़ारी न बनाएं बल्कि उन्हें वीर अब्दुल हमीद और ए पी जे अब्दुल कलाम बनाने वाली शिक्षा दिलाएं इसी लिए हमारी मौजूदा उत्तर प्रदेश की सरकार ने मदरसों में अच्छी शिक्षा व्यवस्था को लागू करने के लिए बहुत काम कर रही है मुंशी आलिम जैसी महत्वपूर्ण डिग्रियों का नाम सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी का नाम देकर अंग्रेज़ी शिक्षा की ओर ले जाने का काम किया है।इस अवसर पर दरगाह बड़े मखदूम साहब के सज्जादानशीन शोएब मियां,वारसी सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हाजी वासिक़ वारसी,क़ारी इस्लाम आरफ़ी,मदरसा अल्लामा फ़ज़ल हक़ खैराबादी मेमोरियल डिग्री कालेज के संरक्षक व संस्थापक काज़िम हुसैन सिद्दीकी, वरिष्ठ समाज सेवी व नगर पालिका सभासद यूसुफ खां, अज़ीम मुज़म्मिल,नसीम खान,क़दीर खान,सभासद सऊद खां, दाऊद खान,वसीक किरमानी,समर अहमद,पूर्व सभासद शाहिद मोल्हे,हाफिज महताब आलम आदि मौजूद थे

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad