योगी आदित्यनाथ- गरीब, व्यापारी की संपत्ति कब्जाई तो हमारा बुलडोजर तैयार, - Ideal India News

Post Top Ad

योगी आदित्यनाथ- गरीब, व्यापारी की संपत्ति कब्जाई तो हमारा बुलडोजर तैयार,

Share This
#IIN

योगी आदित्यनाथ- गरीब, व्यापारी की संपत्ति कब्जाई तो हमारा बुलडोजर तैयार,


Payagraj-》 Atpee Mishra,


-】सीएम ने यह बातें लीडर प्रेस ग्राउंड में आयोजित माफिया अतीक अहमद के कब्जे से छुड़ाई गई जमीन पर गरीबों के लिए बनाए जाने वाले आवास के शिलान्यास कार्यक्रम में कही। इस दौरान सीएम ने गरीबों के लिए बनाए जा रहे आवास के साथ 157.78 करोड़ की 31 योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। 

मुख्यमंत्री ने बिना नाम लिए पूर्व की अखिलेश सरकार को निशाने पर लिया। कहा कि पहले जनता के विकास के लिए आने वाला पैसा चंद लोग हड़प जाते थे। गरीबों के लिए आवास पहले भी बनाए जा सकते थे, लेकिन पूर्व की सरकारों ने ऐसा नहीं किया। क्योंकि उनकी नीयत ही साफ नहीं थी। लेकिन अब ऐसा नहीं है। प्रदेश सरकार जीरो टालरेंस की नीति पर काम कर रही है।
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि प्रदेश में अब किसी माफिया की हिम्मत नहीं कि वह गरीबों या व्यापारियों की संपत्ति पर कब्जा कर सके। अगर किसी ने कब्जा किया तो हमारा बुलडोजर तैयार है। माफिया की संपत्ति को तो ध्वस्त किया ही जाएगा, साथ ही वहां गरीबों के लिए आवास भी बनाए जाएंगे।

2017 के पहले खाली जमीन पर 
सपा की सरकार में नारे लगते थे कि जो जमीन खाली है वह हमारी है, लेकिन वर्ष 2017 के बाद यह नारे हवा हो गए। सपा के शासन में गरीबों की संपत्ति पर माफियाओं का कब्जा होता था, लेकिन  आज उन जमीनों को माफियाओं से मुक्त कराकर गरीबों के लिए आवास बनाए जा रहे हैं। प्रदेश भर में 43 लाख गरीबों को आवास दिए जा चुके हैं। प्रयागराज में यह संख्या 1.25 लाख के आसपास है। इस दौरान सीएम योगी ने बसपा को भी निशाने पर लिया।

कहा कि सपा और बसपा दोनों ही सरकारों में गरीबों का हक मारा जाता था। आज  हमारी सरकार के पास गरीबों के लिए ढेरों योजनाएं हैं। चाहे वह जन आरोग्य योजना हो या फिर सौभाग्य योजना, उज्ज्वला योजना आदि का लाख प्रदेश भर के लाखों गरीबों को मिला है। सीएम ने कहा कि  केंद्र और प्रदेश सरकार गरीबों को जो नि:शुल्क अनाज दे रही है, पहले गरीबों के अनाज का यही पैसा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता था।
 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad