काशी विश्‍वनाथ धाम : बाबा दरबार से गंगा तट तक होगी दो टन फूलों की सुवास, पत्तियों से निखरेगी हरियाली छटा, - Ideal India News

Post Top Ad

काशी विश्‍वनाथ धाम : बाबा दरबार से गंगा तट तक होगी दो टन फूलों की सुवास, पत्तियों से निखरेगी हरियाली छटा,

Share This
#IIN 

काशी विश्‍वनाथ धाम : बाबा दरबार से गंगा तट तक होगी दो टन फूलों की सुवास, पत्तियों से निखरेगी हरियाली छटा,

Bhupinder Agrahari



वाराणसी । गंगा तट से बाबा दरबार तक एकाकार श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण पर 13 दिसंबर को पूरे परिसर में पत्तियों से हरियाली छटा तो निखरेगी ही तो फूलों की सुवास भी बिखरेगी। इसके लिए 5,27,730 वर्गफीट में विस्तारित धाम क्षेत्र को लगभग 40 टन फूलों-पत्तियों से सजाया जाएगा। श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन ने लखनऊ की एक कंपनी को इसका आर्डर दिया है। साज-सज्जा के लिए ज्यादातर फूल कोलकाता से मंगाए जा रहे हैं। वहीं चंदौली, बनारस और मीरजापुर के किसानों से भी फूल खरीदे जा रहे हैं। फूलों की सजावट के बीच में बुके भी लगाए जाएंगे। इनकी संख्या करीब 51 सौ होगी, जो धाम की दिव्यता और भव्यता में चार चांद लगाएंगे। शुक्रवार को कंपनी के कर्मचारियों ने मंदिर का निरीक्षण किया। मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील वर्मा ने बताया कि रविवार सुबह से कर्मचारी मंदिर की साज-सज्जा में जुट जाएंगे, जो सोमवार की भोर तक सजावट का काम खत्म कर देंगे।श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि बाबा श्रीकाशी विश्वनाथ धाम की सजावट के लिए कुंद, रजनीगंधा, अस्टर, बनारसी गेंदा, गुलाब, चमेली, स्टार, पाम, जर्बदन, लर, स्टीक, ग्लेडिया (आरेंज, रेड और येलो) के पुष्प और पत्तियों का प्रयोग होगा, जो मंदिर परिसर को महमह कर देंगे। सजावट में सबसे अधिक गेंदे के फूल का प्रयोग किया जाएगा। कारण कि यह फूल सबसे अधिक टिकाऊ होता है। चारों दिशाओं में बने भव्य द्वार की सजावट गेंदे के फूलों से की जाएगी। इसमें बीच-बीच में बुके लगाए जाएंगे।लखनऊ से आई टीम ने बातचीत में बताया कि कोलकाता से मंगाए जा रहे रजनीगंधा, कुंद और गुलाब के फूलों से बाबा का गर्भ गृह सजाया जाएगा। इसके अलावा इसमें ग्लेडिया (आरेंज, रेड और येलो), अस्टर, आर्केड, घोड़ा पत्ता का गुलदस्ता भी लगाया जाएगा। यह कार्य रविवार की रात शयन आरती के बाद शुरू होगा जो सोमवार की भोर तक चलेगा।श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण पर भाजपा संगठन की ओर से शहर के प्रमुख 33 चौराहे भी सजाए जाएंगे। प्रधानमंत्री के रूट वाले चौराहों को वरीयता के क्रम में सजाया जाएगा। इसके लिए स्थानीय मालियों की मदद ली जा रही है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad