जानिए पाबंदियों के बाद क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद, आज से राजधानी में येलो अलर्ट, - Ideal India News

Post Top Ad

जानिए पाबंदियों के बाद क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद, आज से राजधानी में येलो अलर्ट,

Share This
#IIN

जानिए पाबंदियों के बाद क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद, आज से राजधानी में येलो अलर्ट,


Delhi Rajiv kr Jaiswal, 


-】कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए डीडीएमए ने बीते अगस्त में कोविड के लिए ग्रैप को मंजूरी दी थी। इससे कोरोना बढ़ने पर बंदिशें लगाने का फैसला संक्रमण दर, सक्रिय व अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या को देखते हुए लेना है। मामले तय संख्या से ज्यादा होने पर ग्रैप लागू करना है। इसी संदर्भ में मंगलवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय बैठक में कोरोना के बढ़ते मामलों की समीक्षा की गई। इसमें संबंधित अधिकारियों ने बताया कि रविवार से दिल्ली में संक्रमण दर 0.50 फीसदी से ऊपर बनी हुई है। ऐसी सूरत में ग्रैप के पहला चरण के तौर पर येलो अलर्ट जारी कर दिया गया।

वहीं, बाजार व मॉल्स सम-विषम के फार्मूले पर खुलेंगे। नाइट कर्फ्यू का समय रात 10 बजे से सुबह पांच बजे के बीच रहेगा। दूसरी तरफ शैक्षणिक संस्थान, सम्मेलन कक्ष समेत सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स, थियेटर, बैंक्वेट हॉल, स्पा एंड वेलनेस क्लिनिक, योग संस्थान व जिम अगले आदेश तक बंद रहेंगे। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने इससे जुड़ा आदेश भी जारी कर दिया है।

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) के तहत येलो अलर्ट जारी करने का फैसला किया है। तत्काल प्रभाव से मंगलवार को लागू आदेश के तहत अब दिल्ली मेट्रो, डीटीसी बस समेत सार्वजनिक परिवहन के सभी माध्यमों पर मुसाफिरों की संख्या 50 फीसदी होगी। 


इसकी जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि ग्रैप से वैज्ञानिक तौर पर यह पता रहता है कि कितना करोना हो जाएगा, क्या बंद करें और कितना कोरोना होगा तो और क्या बंद कर देंगे। इसमें तय किया गया है कि लगातार दो दिन तक संक्रमण दर 0.50 फीसदी से अधिक होने पर येलो लेवल आ जा जाएगा। दिल्ली में अभी के हालात यही हैं। ऐसे में ग्रैप के लेवल वन को लागू करने का निर्णय लिया गया है। इसके तहत कुछ चीजों पर पाबंदियां लगाई जा रही हैं। हालांकि, मुख्यमंत्री ने भरोसा दिया कि घबराने की जरूरत नहीं है। दिल्ली सरकार ने इस बार ज्यादा तैयार कर रखी है। वक्त चिंता करने की नहीं है, जरूरत जिम्मेदार बनने की है।




No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad