23 दिन में चार करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य, हर जिले में आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने के सीएम योगी ने दिए निर्देश, - Ideal India News

Post Top Ad

23 दिन में चार करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य, हर जिले में आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने के सीएम योगी ने दिए निर्देश,

Share This
#IIN

 23 दिन में चार करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य, हर जिले में आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने के सीएम योगी ने दिए निर्देश,


Lucknow-》 Hariom Singh Swaraj,      


-】मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निगरानी समितियों को सक्रिय रखा जाए। मेडिसिन किट की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। सभी अस्पतालों तथा मेडिकल कॉलेजों में आईसीयू बेड के मेडिकल उपकरणों को क्रियाशील रखा जाए। किसी भी संभावित परिस्थिति से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए सभी व्यवस्थाओं को सक्रिय रखा जाए। इसके लिए17 व 18 दिसंबर को मॉक ड्रिल किया झआए। निर्माणाधीन ऑक्सीजन प्लांट का कार्य जल्द से जल्द पूरा किया जाए।

मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य तेज करें
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि जिन मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य चल रहा है, उसे जल्द से जल्द पूरा किया जाए। इसी तरह 16 जिलों में पीपीपी मॉडल पर बनने वाले मेडिकल कॉलेजों की प्रक्रिया भी तेज की जाए। उन्होंने रीजनल वायरोलॉजी सेंटर की स्थापना को तेज करने का निर्देश दिया। कहा कि प्रदेश में वायरोलॉजी संस्थान की स्थापना होने पर चिकित्सा के क्षेत्र में उच्चस्तरीय जांच व शोध की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि प्रदेश में कोविड को लेकर हर जिले में आरटीपीसीआर टेस्ट बढाया जाए। प्रदेश में 31 दिसंबर तक चार करोड़ कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य मानकर कार्ययोजना बनाई जाए। इसमें शहरी इलाके के साथ ग्रामीण इलाके पर भी जोर दिया जाए। कोविड की आपात स्थिति से निपटने के लिए 17 और 18 दिसंबर को मॉक ड्रिल किया जाए। वह बुधवार को अपने सरकारी आवास पर उच्च स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड टेस्टिंग और कोविड टीकाकरण में उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है। इसे निरंतर बनाए रखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हर जिले में आरटीपीसीआर लैब तैयार है। ऐसे में आरटीपीसीआर टेस्ट की संख्या बढाई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि विश्व के अनेक देशों में कोरोना के नए वैरिएंट से संक्रमित लोगों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। ऐसे में अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूररत है। उन्होंने कहा कि दूसरे देशों और राज्यों से प्रदेश में आ रहे हर व्यक्ति की जांच की जाए। लक्षण मिलने पर उन यात्रियों को होम क्वारण्टीन में भेजकर उनकी मॉनीटरिंग की जाए। बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन तथा एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सतर्कता बरतते हुए जांच की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad