काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण पर भाजपा शासित प्रदेशों के 14 मुख्यमंत्री, दो उप मुख्यमंत्री रहेंगे शामिल, - Ideal India News

Post Top Ad

काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण पर भाजपा शासित प्रदेशों के 14 मुख्यमंत्री, दो उप मुख्यमंत्री रहेंगे शामिल,

Share This
#IIN 

काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण पर भाजपा शासित प्रदेशों के 14 मुख्यमंत्री, दो उप मुख्यमंत्री रहेंगे शामिल,

Bhupendra Agrahari,



वाराणसी । श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण 13 दिसंबर को होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ ही भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री भी शामिल रहेंगे। काशी में ही मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बैठक करेंगे। शाम को गंगा आरती में भी शामिल होंगे। तय कार्यक्रम के अनुसार काशी भ्रमण के साथ ही अयोध्या भ्रमण की भी तैयारी हुई है। मुख्यमंत्रियों के काशी आगमन व अयोध्या तक भ्रमण कार्यक्रम को लेकर शुक्रवार को नदेसर स्थित मीडिया सेंटर में अहम बैठक हुई। अध्यक्षता दिव्य काशी-भव्य काशी कार्यक्रम के संयोजक नागेंद्र रघुवंशी व सह संयोजक उदय प्रताप पप्पू ने की। मुख्यमंत्री व उनके परिवारीजनों को रहने-खाने के साथ ही भ्रमण को लेकर हो रही व्यवस्था पर चर्चा की गई। नागेंद्र रघुवंशी ने बताया कि भाजपा शासित प्रदेशों से 14 मुख्यमंत्री व दो उप मुख्यमंत्रियों के काशी आ आएंगे। हालांकि, उनके आगमन को लेकर अंतिम प्रोटोकाल नहीं आया है जिसका इंतजार संगठन स्तर से हो रहा है। बताया कि मुख्यमंत्रियों व उप मुख्यमंत्रियों के साथ उनका परिवार भी काशी आ रहा है। अधिकतर मुख्यमंत्रियों का आगमन 12 दिसंबर को ही हो जाएगा। कुछ मुख्यमंत्री 13 दिसंबर को काशी आएंगे। पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ श्रीकाशी विश्वनाथ धाम लोकार्पण में शामिल होंगे। इसके बाद दोपहर का लंच होगा। शाम को सभी मुख्यमंत्री जलयान से गंगा विहार करेंगे और गंगा आरती के भव्य आयोजन में शामिल होंगे। जलयान से ही गंगा आरती निहारेंगे। सभी मुख्यमंत्रियों का कटआउट गंगा के दोनों किनारों पर लगाया जाएगा। 14 दिसंबर को प्रधानमंत्री के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक होगी। इस तरह की बैठकें नियमित तौर पर हर छह माह में होती रही हैं लेकिन बीते कोरोना संक्रमण काल के कारण बीते दो साल में बैठकों का दौर ठप पड़ा रहा। एक बारगी फिर से बैठक की शुरुआत हो रही है जिसका स्थान काशी तय किया गया है। दो दिनी काशी प्रवास के बाद पूरी संभावना है कि 12 दिसंबर की शाम मुख्यमंत्रियों का दल परिवार के साथ श्रीराम मंदिर भ्रमण के लिए अयोध्या रवाना हो जाए। सड़क मार्ग से अयोध्या तक जाने की तैयारी हो रही है। अयोध्या में रात्रि विश्राम भी संभावित है। श्रीराम मंदिर में दर्शन-पूजन करने के बाद अपने-अपने प्रदेशों के लिए लौट जाएंगे। नागेंद्र रघुवंशी ने यह भी स्पष्ट किया कि संगठन स्तर से मिली  प्रारंभिक सूचना के आधार पर तैयारी हो रही है। अंतिम प्रोटोकाल आने तक कार्यक्रम में फेरबदल संभावित है। बैठक में प्रदेश प्रवक्ता अशोक पांडेय, श्रीनिकेतन मिश्र, शोभनाथ विश्वकर्मा आदि मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad