राजद के कदावर नेता हारून अंसारी से मिले जदयू सांसद महाबली सिंह। - Ideal India News

Post Top Ad

राजद के कदावर नेता हारून अंसारी से मिले जदयू सांसद महाबली सिंह।

Share This
#IIN

राजद के कदावर नेता हारून अंसारी से मिले जदयू सांसद महाबली सिंह।

राजनीतिक गलियायरे में चर्चाओं का बाजार गर्म।

राजद खेमे में खलबली।

विश्वनाथ प्रसाद गुप्ता ब्यूरो चीफ बिहार।





पटना डेस्क। कैमूर/नुआंव। जदयू सांसद सह राज्य के पूर्व मंत्री महाबली सिंह कुशवाहा नुआंव के रास्ते बक्सर जाने के क्रम में मुख्य मार्ग स्थित लक्की मैरिज हाल में बिहार प्रदेश अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के महासचिव सह पूर्व जिप सदस्य हारून अंसारी से मुलाकात की।दोनो नेताओ के बीच करीब 30 मिनट गुफ्तगू हुई।हालांकि दोनों नेताओं ने इसे शिष्टाचार मुलाकात बताया।लेकिन इस मुलाकात को लेकर राजद के नेताओ व कार्यकर्ताओं में खलबली मच गई है।बतादे की राजद नेता की पत्नी शाहीन राशिद जिला परिषद का चुनाव नुआंव प्रखंड से दो बार लङी व चुनाव दोनो बार हार गई।हार के पीछे पार्टी से जुड़े एक जाति विशेष वर्ग का वोट नही मिलना बताया जा रहा है।जिसको लेकर राजद नेता पार्टी के गतिविधियों से काफी नाराज है।और पार्टी छोड़ने का मूड बना रहे है।हांलाकि उनका झुकाव जदयू के साथ बहुजन समाज पार्टी की ओर भी है।राजद नेता की पार्टी से चल रही नाराजगी की भनक लगते ही जदयू नेता उनपर डोरा डालना शुरू कर दिए है।बताया जा रहा है कि मध्यस्तता का कार्य जदयू के पूर्व प्रखंड अध्यक्ष रह चुके व वर्तमान में बीजेपी नेता कर रहे है।हारून अंसारी ने साफ कर दिया है कि बीजेपी का दामन वे किसी कीमत पर नही थामेंगे।ऐसे में वे एनडीए के घटक दल जदयू में उन्हें शामिल कराने के मिशन में लग गए है।मुलाकात के बाद राजद नेताओ एवं कार्यकर्ताओ के कॉल हारून अंसारी के यहां आनी शुरू हो गई है।लेकिन अभी वे खुल कर कुछ बोल नही रहे है।पूछे जाने पर हारून अंसारी ने बताया कि हमारे नेता प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द है।जब तक वे पार्टी में है मुझे राजद को छोड़ना मुमकिन नही है।वैसे पार्टी से नाराजगी अवश्य है।मुलाकात को लेकर उन्होंने कहा कि औपचारिक मुलाकात है।इसके राजनीतिक मायने नही निकाला जाना चाहिए वैसे उन्होंने यह भी जोड़ा की राजनीति में कुछ भी असम्भव नही है।उधर जदयू के प्रखंड अध्यक्ष गुड्डू गुप्ता ने बताया कि राजद नेता व हमारे नेता की मुलाकात की खबर मुझे भी मिली है।लेकिन इस बारे में हमे कोई विस्तृत जानकारी नही है।अगर राजद नेता जदयू में आते है।तो उनका स्वागत है।उन्हें उनके कद के अनुसार पार्टी सम्मान देगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad