32 म्यूटेशन बनाते हैं इसे डेल्टा से भी खतरनाक, कोरोना के इस 'सुपर संक्रामक' वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता, - Ideal India News

Post Top Ad

32 म्यूटेशन बनाते हैं इसे डेल्टा से भी खतरनाक, कोरोना के इस 'सुपर संक्रामक' वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता,

Share This
#IIN

32 म्यूटेशन बनाते हैं इसे डेल्टा से भी खतरनाक, कोरोना के इस 'सुपर संक्रामक' वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता, 


डॉक्टर मिथिलेश श्रीवास्तव



-】कोरोना के इस नए वैरिएंट ने वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी है। वैज्ञानिकों का कहना है कि अब तक के अध्ययनों के आधार पर कहा जा सकता है कि कोरोना का यह नया वैरिएंट सबसे खतरनाक हो सकता है, जिससे बचाव के लिए नए सिरे से तैयारियां करने की आवश्यकता होगी। आइए आगे की स्लाइडों में कोरोना के इस नए वैरिएंट बी.1.1.1.529 के बारे में विस्तार से जानते हैं। 

वैरिएंट में देखे गए हैं 32 म्यूटेशन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना के इस नए वैरिएंट की पहचान सबसे पहले बोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका में की गई थी। वैज्ञानिकों के मुताबिक कोरोना के इस नए वैरिएंट में देखे गए करीब 32 म्यूटेशन इसे बेहद संक्रामक बनाते हैं। म्यूटेशन की संख्या जितनी अधिक होगी, वायरस के प्रतिरक्षा से बचने की संभावना भी उतनी ही अधिक होती है। इंपीरियल कॉलेज लंदन के वायरोलॉजिस्ट डॉ टॉम पीकॉक ने जीनोम साझा करते हुए लिखा "वायरस में अविश्वसनीय रूप से उच्च मात्रा में स्पाइक म्यूटेशन देखे गए हैं जो बताते हैं कि यह वास्तविक चिंता का विषय हो सकता है।


दुनिया के तमाम देशों में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर से बढ़ते हुए देखे जा रहे हैं। विशेषकर यूरोप में कोरोना एक बार फिर से लोगों के लिए गंभीर समस्याओं का कारण बनता हुआ दिख रहा है। इस बीच वैज्ञानिकों ने कोरोना के एक और नए वैरिएंट के बारे में लोगों को आगाह किया है। रिपोर्टस के मुताबिक कोरोना का यह नया वैरिएंट बी.1.1.1.529 काफी संक्रामक हो सकता है। अब तक तीन देशों में इस वैरिएंटस के 10 मामलों की पुष्टि की जा चुकी है, वैज्ञानिकों का कहना है कि इसकी प्रकृति गंभीर जटिलताओं का कारण बन सकती है। अध्ययन से पता चलता है कि कोरोना के इस वैरिएंट में एक-दो नहीं 32 म्यूटेशन देखे गए हैं, जो इसे काफी संक्रामक बनाते हैं।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad