सलेहा क्षेत्रवासियों ने की जगह-जगह बड़े ही धूमधाम के साथ की मां दुर्गा के सातवें अवतार मां कालरात्रि देवी की पूजा अर्चना, - Ideal India News

Post Top Ad

सलेहा क्षेत्रवासियों ने की जगह-जगह बड़े ही धूमधाम के साथ की मां दुर्गा के सातवें अवतार मां कालरात्रि देवी की पूजा अर्चना,

Share This
#IIN

 सलेहा क्षेत्रवासियों ने की जगह-जगह बड़े ही धूमधाम के साथ की मां दुर्गा के सातवें अवतार मां कालरात्रि देवी की पूजा अर्चना,

Adarsh pandey panna,




-} हम आपको बता दें कि नवरात्रि के सातवें दिन मां दुर्गा के सातवें स्‍वरूप कालरात्र‍ि की पूजा का विधान है. नवरात्रि में सप्तमी तिथि का विशेष महत्व बताया गया है. मां कालरात्रि ने असुरों का वध करने के लिए यह रूप लिया था. शक्ति का यह रूप शत्रु और दुष्‍टों का संहार करने वाला है. मान्‍यता है कि मां कालरात्रि ही वह देवी हैं जिन्होंने मधु कैटभ जैसे असुर का वध किया था. कहते हैं कि महा सप्‍तमी के दिन पूरे विध‍ि-व‍िधान से कालरात्रि की पूजा करने पर मां अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं. माना जाता है कि मां कालरात्रि की पूजा करने वाले भक्तों को भूत, प्रेत या बुरी शक्ति का भय नहीं सताता. मां कालरात्रि का स्वरूप देखने में बहुत ही भंयकर है, लेकिन मां कालरात्रि का हृदय बहुत ही कोमल और विशाल है. मां कालरात्रि की नाक से आग की भयंकर लपटें निकलती हैं. मां कालरात्रि की सवारी गर्धव यानि गधा है. 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad