वाराणसी: नवरात्र महोत्सव में शामिल होने के लिए वाराणसी पहुंचे लोकगायक और दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने बुधवार सुबह विपक्ष पर बोला करारा हमला,* - Ideal India News

Post Top Ad

वाराणसी: नवरात्र महोत्सव में शामिल होने के लिए वाराणसी पहुंचे लोकगायक और दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने बुधवार सुबह विपक्ष पर बोला करारा हमला,*

Share This
#IIN

*वाराणसी: नवरात्र महोत्सव में शामिल होने के लिए वाराणसी पहुंचे लोकगायक और दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी ने बुधवार सुबह विपक्ष पर बोला करारा हमला,*
       
RajNarayan Vishwakarma



मंदिर जाने के दौरान मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर साधा निशाना,*
         लखीमपुर कांड पर बोलते हुए भाजपा सांसद ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कश्मीर में भारतीय सेना का जवान आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो जाते हैं। मगर किसी भी राजनीतिक दल को उनके बारे दो मिनट बात करने की फुर्सत नहीं है। इन लोगों का काम है लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले को भाजपा के खिलाफ मुद्दा बनाकर यूपी की भोली-भाली जनता को भड़काना। कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दल पांच साल की कसर इसी मामले पर पूरी करना चाहते हैं।
         मनोज तिवारी ने कहा कि अखिलेश यादव, राहुल और प्रियंका गांधी हर मौत, हर दुर्घटना को अलग नजरिए से देखते हैं। उन्होंने पूछा कि कांग्रेस के किसान न्याय रैली से कोई प्रभाव पड़ा क्या। आज किसानों के घर में शौचालय और खाते में पैसे भाजपा सरकार ने भेजे हैं। सभी किसान भाजपा को ही अपना हितैषी मानते हैं। कांग्रेस की कोशिशों से कुछ भी नहीं होने वाला है। वहीं, अखिलेश यादव को लेकर उन्होंने कहा कि पहले वह अपना परिवार देख लें। इसके बाद कुछ और देखें। 
        मनोज तिवारी ने दावा किया कि यूपी के लोगों में भाजपा को लेकर भरोसा कायम है। सपा-बसपा और कांग्रेस चाहे जितना भी जोर लगा ले, वैसा भरोसा किसी भी राजनीतिक दल को लेकर लोगों में नहीं है। 
        छठ पूजा के मसले पर बात करते हुए मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथ लिया। कहा कि दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा पर रोक लगाई गई है। उन्होंने केजरीवाल को संस्कृति और छठ विरोधी बताया।
      मनोज तिवारी ने कहा सीएम अरविंद केजरीवाल हमारे हिंदू धर्म के पर्व पर रोक लगा रहे हैं। उन्हें हिंदू धर्म के पर्वों से चिढ़ है। उनका विरोध मैं बनारस से दिल्ली लौटने के बाद भी करूंगा। कहा कि मैं अपने कमिटमेंट का पक्का हूं। जिस कारण चोट लगने के बाद भी वाराणसी में आप सबके सामने उपस्थित हूं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad