दीवाली के दिए गांव की मिट्टी से बने ही खरीदे - प्रतोष दुबे, - Ideal India News

Post Top Ad

दीवाली के दिए गांव की मिट्टी से बने ही खरीदे - प्रतोष दुबे,

Share This
#IIN

दीवाली के दिए गांव की मिट्टी से बने ही खरीदे - प्रतोष दुबे,

अखिलेश मिश्र "बागी"



मिर्जापुर भारतीय जनता पार्टी के  चिकित्सा प्रकोष्ठ के जिला  सह संयोजक प्रतोष दुबे ने भारतीय जन मानस से निवेदन किया है कि दीपावली देश की समृद्धि की भावना से माँ लक्ष्मी जी की पूजा आराधना की जाती है, लेकिन हम लोग इसे अपने व्यवहार में नहीं लाते हैं , हमारा देश और देशवासी तभी समृद्ध होंगे जब हम उसके लिए प्रयास करेंगे यथा:  विदेशी दिये के स्थान पर हम अपने देश एवं गांव में बने दिये को जलाये जिससे हमारे घर में प्रकाश के साथ साथ उन देश वासियों के घरों में लक्ष्मी जी के आगमन से प्रकाश हो और मिठाई खाने को मिले हमारे साथ साथ उनके भी घरों में खुशीआये जो हमारे लिये रात दिन एक करके महीनों पहले से दीयों को बनाने में पूरा परिवार मेहनत  करता है परन्तु हम उनके दीये न लेकर चाइना में बने दिये जलाते हैं जो हमारे सैनिकों के खूनों से रंगा होता है हमारे देश के दुश्मनों को मजबूती प्रदान करता है। अतः यह सभी लोगों की जिम्मेदारी है कि हम लोग अपने आसपास के घरों में भी खुशी, प्रकाश और समृद्धि लाने की जिम्मेदारी उठाएं तथा देश की असली दीपावली मनाएं। उन अपने भाइयों के आस पर पानी न फेरे जो महीनों पहले से हमारे लिए दिये लाई मिठाई आदि हमारे खुशियों के लिए बनाते रहते हैं।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad