🅰️ *सूचना अधिकारी समेत आधा दर्जन लोग हुए डेंगू से पीड़ित, जिला प्रशासन हुआ एलर्ट, - Ideal India News

Post Top Ad

🅰️ *सूचना अधिकारी समेत आधा दर्जन लोग हुए डेंगू से पीड़ित, जिला प्रशासन हुआ एलर्ट,

Share This
#IIN 

सूचना अधिकारी समेत आधा दर्जन लोग हुए डेंगू से पीड़ित, जिला प्रशासन हुआ एलर्ट,

Manoj kuamr seth




जौनपुर। कोरोना की दूसरी लहर थमने के साथ ही जिले में डेंगू बुखार अपना पैर जमाता जा रहा है। सरकारी आकड़ो के अनुसार अब तक सूचना अधिकारी समेत आधा दर्जन लोग इसके चपेट में आ चुके है। उधर पूर्व मंत्री डॉ के पी यादव समेत दो लोगो की जान डेंगू ले चुका है हलांकि मौतो का आकड़ा सरकारी दस्तावेज में दर्ज नही है। डेंगू संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन एलर्ट हो गया है। गांव गांव टीमें गठित करके सफाई, दवाई का छिड़काव समेत अन्य उपाय शुरू कर दी है। 
सीडीओ ने आज पत्रकारों से बताया कि की जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय समेत छह लोग डेंगू से पीड़ित पाये गये है।  7 सितंबर से 16 सितंबर तक जनपद जौनपुर में प्रत्येक गांव में 2 सदस्यों की एक टीम प्रत्येक दिन 50 घर का भ्रमण करते हुए राज्य स्तर से निर्धारित चार फॉर्मेट को भरेगी। यह सर्वे 10 दिन का होगा। जनपद में कुल 1250 टीम कार्य करेंगे जो कोविड-19 का पालन करते हुए अपने साथ हैंड सैनिटाइजर के साथ स्वास्थ्य एवं ग्राम निगरानी समिति को उपलब्ध कराएगी तथा थर्मामीटर एवं पल्स ऑक्सीमीटर का उपयोग सर्वेक्षण टीम के द्वारा किया जाएगा। 

उन्होंने अवगत कराया कि डेंगू के लिए अब तक 120 जांच किया गया जिसमें 6 व्यक्ति अब तक पॉजिटिव पाए गए है। जनपद में डेंगू के लिए एक कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जो सुबह 8:00 बजे से संचालित होकर रात्रि 8:00 बजे तक चलाया जाएगा। कंट्रोल रूम द्वारा ग्रामवार रिपोर्ट तैयार किया जाएगा। कंट्रोल रूम में 21 कर्मचारी तैनात किए गए हैं। जो अपने ब्लॉक से जानकारी लेते हुए रिपोर्ट तैयार करेंगे।
 उन्होंने यह भी अवगत कराएं है कि जनपद में अब तक 11 ऑक्सीजन प्लांट चालू है 4 और चालू हो रहे हैं जिससे ऑक्सीजन की कमी नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि पल्स पोलियो अभियान की तरह प्रत्येक घर का सर्वे कराया जाएगा, सर्वे में पाए गए सभी लक्षणयुक्त व्यक्तियों की लक्षण के प्रकार को देखते हुए छय रोग, डेंगू, मलेरिया एवं कोविड-19 का रिपोर्ट तैयार कराया जाएगा, सभी लक्षण युक्त व्यक्तियों को टीम के द्वारा मेडिसिन किट उपलब्ध कराई जाएगी। टीम भ्रमण के दौरान डोर टू डोर जाकर घर के सदस्य के बारे में एवं रोगों से ग्रसित एवं लक्षण युक्त व्यक्तियों के विवरण एवं व्यौरा तैयार करेगी, जिसमें आम जनमानस की सहयोग की आवश्यकता भी होगी। उन्होंने कहा कि टीम द्वारा घर-घर जाकर ज्वर पीड़ित व्यक्तियों, कोविड-19, क्षय युक्त व्यक्तियों, लक्षण युक्त व्यक्तियों, नियमित टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों तथा गर्भवती महिलाएं एवं 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में कोविड की पहली खुराक न प्राप्त करने वाले व्यक्तियों की विवरण फार्म पर भरेगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad