फिर कभी नहीं जीते कोई चुनाव- इस घटना से पूर्व सांसद अतीक ने खो दिया था अपनों का विश्वास, - Ideal India News

Post Top Ad

फिर कभी नहीं जीते कोई चुनाव- इस घटना से पूर्व सांसद अतीक ने खो दिया था अपनों का विश्वास,

Share This
#IIN 

फिर कभी नहीं जीते कोई चुनाव- इस घटना से पूर्व सांसद अतीक ने खो दिया था अपनों का विश्वास, 

Atpee Mishra 



-》 प्रयागराज के मदरसा कांड को जिले का शायद ही कोई शख्स भूला हो। इस एक घटना ने पूरे प्रदेश सहित जिले को हिलाकर रख दिया था। इस घटना में अतीक से जुड़े लोगों का नाम आने के बाद पूर्व सांसद अतीक अहमद की छवि को गहरा धक्का लगा और उसके बाद उन्होंने अपनों का भी विश्वास खो दिया। इसके बाद वह कभी कोई चुनाव नहीं जीत सके। पत्नी शाइस्ता परवीन को एआईएमआईएम ज्वाइन कराने के बाद जिले के कद्दावर नेता, पांच बार के विधायक और फूलपुर से एक बार सांसद चुने गए अतीक अहमद का नाम फिर चर्चा में है।

अतीक के सांठगांठ पर नपे थे एसओ

घटना के समय करेली के थानेदार राजेश कुमार सिंह थे। राजेश और अतीक के बीच सांठगांठ की खबरों के बीच एसएसपी बीडी पॉलसन ने एसओ राजेश सिंह को सस्पेंड कर दिया था। राजेश पर आरोप था कि गैंगरेप की सूचना देने के बाद भी उन्होंने पहली एफआईआर सिर्फ छेड़खानी की दर्ज की थी। बहुत दबाव पड़ने पर गैंगरेप की रिपोर्ट दर्ज की गई थी।


-》सुबह होने से पहले दोनों को मदरसे के दरवाजे पर फेंककर भाग गए। इस घटना ने प्रदेश की राजनीति में भूचाल ला दिया था। तत्कालीन सपा सरकार बैकफुट पर आ गई थी। यह पहली घटना थी जिसमें अतीक ने अपने ही लोगों का मान सम्मान और समर्थन खो दिया था। पुलिस ने इस कांड में पांच रिक्शे वालों और दर्जी का काम करने वालों का पकड़ा था जिन्हें बाद में अदालत से राहत मिल गई। उन लोगों ने पुलिस पर फंसाने का आरोप लगाते हुए घटना में शामिल होने से साफ इनकार कर दिया था। यह सवाल आज भी जिंदा है कि अगर वे असली आरोपी नहीं थे तो किसने इस कांड को अंजाम दिया था?


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad