पुरानी दिल्ली गए और कांजी वड़ा नहीं चखा तो कुछ नहीं चखा, - Ideal India News

Post Top Ad

पुरानी दिल्ली गए और कांजी वड़ा नहीं चखा तो कुछ नहीं चखा,

Share This
#IIN 

पुरानी दिल्ली गए और कांजी वड़ा नहीं चखा तो कुछ नहीं चखा,


Anju pathak

:- अगर आप घूमने-फिरने के साथ खाने-पीने की शौक रखते हैं तो आपको चांदनी चौक की इन फेमस खाने-पीने की पुरानी दुकानों एक बार जरूर जाना चाहिए. पुरानी दिल्ली चांदनी चौक में वीकेंड पर शॉपिंग के साथ-साथ आप खाने पीने का भी लुत्फ उठा सकते हैं. 

- आप दिल्ली से बाहर रहते हो और आपको पुरानी दिल्ली में बिकने वाली कांजी वाड़े का मजा घर में लेना है तो आइए जानते हैं इसे बनाने की रेसिपी.

कांजी बनाने की विधि:
मिट्टी के बर्तन में कांजी को बनाने से उसका स्वाद दोगुना बढ़ जाता है. सबसे पहले मिट्टी के बर्तन को अच्छे से धोकर धूप में सुखा लें. इसके बाद इसमें पिसी हुई राई, हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, हींग, नमक और सरसों का तेल डाल लें उसके बाद उसमें पानी डालें. सभी मसाले डालने के बाद इसे अच्छे से चला लें. उसके बाद इसे खट्टे होने के लिए चार से पांच दिनों के लिए गर्म स्थानों पर रख दें.

आवश्यक सामग्री:
पीली या काली सरसों -  एक चम्मच 
पानी- आधे लीटर से थोड़ा सा ज्यादा
लाल मिर्च पाउडर- ¼ छोटा चम्मच 
हल्दी पाउडर- एक छोटा चम्मच 
सरसों के तेल- एक छोटा चम्मच 
सादा नमक- एक छोटा चम्मच, या स्वादानुसार 
काला नमक- ½ छोटा चम्मच (स्वादानुसार )
बड़े बनाने के लिए सामग्री
मूंग की दाल- 70 ग्राम, एक छोटी कटोरी 
नमक- स्वादानुसार 
तेल तलने के लिए 

वड़े बनाने की विधि:
मूंग दाल को चार से पांच घंटे के लिए पानी में भिगो लें और उसके बाद उसे पिस लें. दाल को थोड़ा दरदरा पीस लें. दाल में नमक और हींग डालकर अच्छे से मिला लें. इसे अच्छे से 5 से 10 मिनट के लिए फेंटें. उसके बाद कढ़ाई में तेल डालकर वड़े को तलें. वड़े तलने के बाद उसे 
कांजी के पानी में डालकर आधे से एक घंटे के लिए छोड़ दें. वड़े फूल जाएं तो उसको परोसें. 



 




No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad