*न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी ने दिए SHO कोतवाली को रसुखदार पाणिनी सिंह के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज करने के आदेश* - Ideal India News

Post Top Ad

*न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी ने दिए SHO कोतवाली को रसुखदार पाणिनी सिंह के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज करने के आदेश*

Share This
#IIN

*न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी ने दिए SHO कोतवाली को रसुखदार पाणिनी सिंह के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज करने के आदेश*

धर्मेन्द्र सेठ जौनपुर



*न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी के द्वारा भुक्त भोगी सतवंत सिंह को धारा 156 के अन्तर्गत मिला न्याय*
*-------------------------------------*
 *रंग लाई वरिष्ठ अधिवक्ता विकलेश कुमार व अखिलेश  चंद्र एडवोकेट की मेहनत*
*-------------------------------------*
*जौनपुर - न्यायालय नियत प्राधिकारी विनियमित क्षेत्र के आदेश की कूटरचित व्याख्या करके सार्वजनिक गली मे घर के आगे दीवार खड़ी करने के खिलाफ़ वरिष्ठ अधिवक्ता विकलेश कुमार ने वादी सतवंत की तरफ से न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी जौनपुर को 156 के अन्तर्गत प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया था कि सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश की गलत व कूटरचित व्याख्या करके घर के आगे दीवार खड़ी करने के आरोपी पाणिनी सिंह के  खिलाफ SHO कोतवाली को आरोपी पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। वादी सतवंत सिंह ने दिवानी न्यायलय के वरिष्ठ अधिवक्ता विकलेश कुमार ने वादी की तरफ से पैरवी करते हुए वादी को न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी जौनपुर से न्याय दिलाने में कामयाबी हासिल की।*
*आप को बताता चलू कि मूल रूप से खुनसा गांव निवासी पाणिनी सिंह जिले के मुख्य चिकित्सक रहे डॉक्टर के एन सिंह के पुत्र हैं कई वर्षों तक लगातार जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन भी रहे चुके हैं।* *वर्ष 2012 में मल्हनी सीट पर हुए चुनाव में बसपा के टिकट पर मैदान पर उतरे थे इस चुनाव में पाणिनी सिंह को 50,000 में वोट मिले थे जिसमे सपा के स्वर्गीय पारस नाथ यादव को जीत मिली थी।*
*पुनः 04.08.2020 को मल्हनी सीट के लिए से बी.जे.पी ने पाणिनी सिंह पर दाव लगाया था। उसी पाणिनी सिंह पर वरिष्ठ अधिवक्ता ने वादी यशवंत सिंह की पैरवी करते हुए धारा 156 के अन्तरगत प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया था की पडोसी ‌पाणिनी सिंह ने लेखपाल एवं कानूनगो की मिली भगत से सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश की गलत एवं कूटरचित व्याख्या करके सार्वजनिक गली मे प्रार्थी के घर के आगे दीवार खड़ी करवा दिया था!*
*जिस पर वादी यशवंत सिंह ने वरिष्ठ अधिवक्ता विकलेश कुमार के द्वारा एक प्रार्थना पत्र मुख्य दंडाधिकारी जौनपुर को दिया था उस प्रार्थना ‌पत्र के अवलोकन के पश्चात्‌ न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी जौनपुर ने सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश की गलत व कूटरचित व्याख्या करके घर के आगे दीवार खड़ी करने के रसुखदार आरोपी पाणिनी सिंह पुत्र स्व केदारनाथ के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश SHO कोतवाली को दिया गया है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad