संघर्ष और जुनून कुछ ऐसी, रियल लाइफ के हीरो भैरव दत्त की जो अपने जुनून को बच्चों को फुटबॉल के निःशुल्क ट्रेनिंग देकर बच्चों की प्रतिभाओं को निखार रहे हैं। - Ideal India News

Post Top Ad

संघर्ष और जुनून कुछ ऐसी, रियल लाइफ के हीरो भैरव दत्त की जो अपने जुनून को बच्चों को फुटबॉल के निःशुल्क ट्रेनिंग देकर बच्चों की प्रतिभाओं को निखार रहे हैं।

Share This
#IIN

संघर्ष और जुनून कुछ ऐसी, रियल लाइफ के हीरो भैरव दत्त की जो अपने जुनून को बच्चों को फुटबॉल के निःशुल्क ट्रेनिंग देकर बच्चों की प्रतिभाओं को निखार रहे हैं।

जयचन्द जलाली पट्टी वाराणसी







वाराणसी :कई फिल्मों में हम लोगों ने देखा है की लोग हारने के बाद अपने उस जूनून को पूरा करने के लिए दूसरों में प्रतिभाओं को खोज कर अपने आप को सही साबित करने का जुनून उनके अंदर होता है जिस पर की कई फिल्में भी बनी है।
आज हम बात करते हैं एक ऐसे व्यक्ति की जो किसी चलचित्र का अभिनेता नहीं है बल्कि एक आम आदमी है भैरव दत्त जिनके पिताजी देश सेवा के लिए मिलिट्री में थे । आज हम बात करते हैं उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के मूल निवासी मूलवासी भैरव दत्त जी जिनका की बचपन से ही खेलों के प्रति रुझान था मात्र 8 वर्ष की आयु में इनके  पिताजी की मृत्यु के बाद काफी संघर्ष भरा जीवन व्यतीत करने के साथ ही अपने फुटबॉल के प्रेम को नहीं छोड़ सके घर की स्थिति भी इतनी अच्छी नहीं थी कि यह आगे बढ़ सके अपनी मेहनत और लगन के बल पर इन्होंने रेलवे के खेल कोटे से नौकरी भी प्राप्त की फिलहाल बनारस रेलवे इंजन कारखाना के मुख्य कार्यालय अधीक्षक के पद पर कार्यरत हैं अपने फुटबॉल के जुनून को जारी रखते हुए आज पूरे भारत में यह बच्चों के प्रतिभाओं को खोज खोज कर उनकी प्रतिभाओं को निखार रहे हैं। इसी क्रम में बरेका के क्रीड़ा मैदान में बरेका प्रशासन ने इनके जुनून को देखते हुए बरेका के क्रीड़ा मैदान में बच्चों को फुटबॉल की ट्रेनिंग देने का अवसर दिया और अब भैरव दत्त बच्चों को सुबह और शाम को बच्चों को क्रीड़ा मैदान में फुटबॉल की ट्रेनिंग दे रहे हैं जिसमें कि कई अन्य जिलों के भी बच्चे सम्मिलित हुए हैं।ज्योति कुमारी जो कि भैरव जी की शिष्य है भारत के लिए अन्य देशों में जाकर खेल रही है वह भारत का नाम भी रोशन कर रही है। अब और भी लोग सहयोग करने के लिए तैयार हो रहे हैं जैसे की जतिन मेडिकल स्टोर व मोहन प्रसाद गुप्ता ने आज बलिया से आई हुई लड़कियों के लिए रहने खाने और मेडिकल उपचार की सुविधा दी है

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad