जौनपुर में मुस्लिम समुदाय के लोग इस बार पुलिस प्रशासन की बैठक में नहीं जायेंगे - Ideal India News

Post Top Ad

जौनपुर में मुस्लिम समुदाय के लोग इस बार पुलिस प्रशासन की बैठक में नहीं जायेंगे

Share This
#IIN

जौनपुर में मुस्लिम समुदाय के लोग इस बार पुलिस प्रशासन की बैठक में नहीं जायेंगे

धर्मेन्द्र सेठ जौनपुर




जौनपुर। नगर के उर्दू बाजार में मुस्लिम समुदाय की एक बैठक कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए आहूत की गई। जिसमें सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि मुस्लिम समाज के लोग जो पीस कमेटी के सदस्य हैं, वह पुलिस प्रशासन की किसी भी बैठक में नहीं जायेंगे। 
मुस्लिम समाज के शिया एवं सुन्नी आलिमों ने कहा कि हम बिरादराने इस्लाम मोहर्रम के सिलसिले से डीजीपी उत्तर प्रदेश द्वारा अपने मातहतों को जारी दिशा निर्देश में मोहर्रम के सिलसिले से गलत शब्दों के इस्तेमाल व मोहर्रम की हुरमत को पामाल करने के बयान की सख्त निंदा करते हैं और हम बिरादराने इस्लाम शिया एवं सुन्नी कल भी भाई-भाई रहे हैं और आगे भी रहेंगे। आपस में लड़ाने वालों के मंसूबों को कभी कामयाब नहीं होने देंगे। हम उल्माये जौनपुर बिरादराने इस्लाम से अपील करते हैं कि जब तक डीजीपी उत्तर प्रदेश अपने बयान पर माफी नहीं मांग लेते हैं, तब तक हम बिरादराने इस्लाम पुलिस प्रशासन द्वारा किसी भी बैठक में शामिल नहीं होंगे। बैठक में इसरार हुसैन एडवोकेट, सै. मोहम्मद हसन, शिया धर्म गुरू सै. सफदर हुसैन जैदी, इमाम ए जुमा जौनपुर मौलाना महफुजुल हसन खां, डा. कमर अब्बास, नेयाज ताहिर शेखू, मौलाना सलीम शेरवानी, शहंशाह रिजवी एडवोकेट, मेंहदी रजा एडवोकेट, सै. परवेज हसन, नजमी जौनपुरी, अजहर गुलाब आदि उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad