गंगा का रौद्र रूप अब बस्ती की ओर चली गंगा - Ideal India News

Post Top Ad

गंगा का रौद्र रूप अब बस्ती की ओर चली गंगा

Share This
#IIN

गंगा का रौद्र रूप अब बस्ती की ओर चली गंगा

Dr. U.S Bhagat



वाराणसी। गगा का रौद्र रूप से तटवर्ती क्षेत्रों मे हड़कंप मच गया है लोग अब सुरक्षित स्थानों के तलाश अपने घरों से पलायन करने लगे है। शनिवार को सामनेघाट स्थित नाले से बाढ़ का पानी घुसने के कारण मारुति नगर, गायत्री नगर कालोनी के आंशिक हिस्से में रहने वाले 100 घरों से ज्यादा लोग बाढ़ की चपेट में आ गए। घरों में पानी घुसने के कारण ज्यादातर लोग अपना सामान गांव या रिश्तेदार, परिचितों के घर रखने लगे।
वैसे ज्यादातर लोग अभी घर में ही रहकर दूसरे तल पर जरूरत की चीजों को खरीद कर खाने की व्यवस्था में जुटे हैं। मारुति नगर के पिछले हिस्से की सड़कें डूब नगई हैं। कालोनी के रहनेवाले लोगों ने बताया कि अभीतक बिजली की सप्लाई चालू है लेकिन बंद होने के बाद समस्या बढ़ जाएगी और पानी की समस्या होगी।बाढ़ की चिंता के साथ ही शशघरों की सुरक्षा और चोरी होने का डर लोगों को सता रहा है। मारुति नगर में रहने वाले न विजय सिंह, पारसनाथ सिंह, संजय कांत पांडेय , नंद लाल तिवारी सहित काफी लोगों के घरों में पानी प्रवेश करने के कारण परिवार को अपने गांव भेज दिया। पीड़ितों ने बताया कि जिस रफ्तार से पानी बढ़ रहा है क्षेत्र के हजारों लोग घरों को छोड़कर पलायन करने को मजबूर होंगे। वर्ष 2013 और 2016 में भीषण बाढ़ के कारण क्षेत्र की दर्जनों कालोनियों के लोगों के लिए मुसीबत बनी थी। इधर तीन दिनों मे अचानक गंगा मे तेजी से आई बाढ के चलते जहां तारापुर , टिकरी के तराई इलाके में गंगा का पानी खेतों मे घुस जाने से धसब्जियों की सैकड़ों एकड़ फसल डूब गई।रमना के अमित पटेल ने बताया कि 100 एकड़ से ज्यादा सब्जी जिसमें नेनुआ, सेम, लौकी, बोड़ा, करेला, भिंडी डूब गई। रमना गांव के पूर्वी हिस्से पर गंगा किनारे बना शवदाह गृह दूसरी बार बाढ़ की भेंट चढ़ गया।इसके पहले भी रमना में शवदाह गृह बाढ़ की भेंट चढ़ गया लेकिन जिम्मेदार उसके बाद भी नही जागे और फिर उसी जगह शवदाह गृह का निर्माण कराया गया। इधर रामनगर के सूजाबाद,डोमरी समेत दर्जनो गावो आगोश मे लेने के लिए गंगा गावो के मुहाने पर दस्तक देने आतुर। गगा के जलस्तर मे तेजी से बढ़ाव को देखते हुये स्थानीय पुलिस भी घाटो पर गश्त तेज कर दिया खासकर गंगा मे मस्ती करने वाले पर सख्ती शुरू कर दिया है।उधर गगा के रौद्र रूप के चलते वरुण नदी में उफान आ गया है और नदी का पानी का रुख बस्ती की ओर कर दिया है। जिससे खासकर बघवानाला,पुरानेपुल,सलारपुरा , शैलपुत्री समेत दर्जनों मोहल्लों के सैकड़ों घर बाढ़ के पानी से प्रभावित अभी से होने लगे है,लोग सुरक्षित स्थानों की ओर अपना रुख कर दिया है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad