बरसात में डेंगू बुखार का रहता है खतरा, जानिए लक्षण और बचाव के देसी तरीके - Ideal India News

Post Top Ad

बरसात में डेंगू बुखार का रहता है खतरा, जानिए लक्षण और बचाव के देसी तरीके

Share This
#IIN

बरसात में डेंगू बुखार का रहता है खतरा, जानिए लक्षण और बचाव के देसी तरीके


Dr. Mithilesh srivastav

Dengue Fever: मच्छर से होनेवाली बीमारी डेंगू दिन में मादा मच्छर के काटने से होती है. डेंगू के मरीजों को तेज बुखार होता है जो कई सप्ताह तक रहता है. अहम बात ये है कि मच्छर का प्रजनन साफ पानी में होता है न कि गंदे नाले के पानी में. उनका पूरी तरह सफाया करना असंभव है क्योंकि ये गर्म वातावरण में भी रह सकते हैं. पानी के संपर्क में आने के साथ ही ये वयस्क खतरनाक मच्छर बन जाता है. डेंगू की बीमारी मानसून के मौसम में बहुत आम है. उससे छुटकारा पाने के कुछ लक्षण और आसान टिप्स बताए जा रहे हैं. 


डेंगू के लक्षण
तेज बुखार, सिर दर्द, बदन दर्द, भूख की कमी, उल्टी, डायरिया, आंखों में दर्द, थकान, सुस्ती, घुटने का दर्द, शरीर में लाल धब्बे, नाक से खून ये सब डेंगू के लक्षण हैं. 


कैसे बढ़ाएं प्लेटलेट्स?
बकरी का दूध- बकरी के दूध में बहुत औषधीण गुण होते हैं जो डेंगू बुखार में जल्दी ठीक करता है. गाय के दूध को पचने में 8 घंटे लगते हैं जबकि बकरी का दूध मात्र 20 मिनट में पच जाता है. इसलिए उसका सेवन पाचन के लिए भी अच्छा होता है.


नारियल पानी- डेंगू बुखार से छुटकारा पाने के लिए नारियल का पानी ज्यादा पिएं. उसमें मौजूद पोषक तत्व जैसे मिनरल्स और इलेक्ट्रोलाइट्स शरीर को मजबूती प्रदान करने में मदद करते हैं. 


तुलसी- पानी में 10-12 तुलसी की पत्तियां और दो ग्राम काली मिर्च को उबालना भी फायदेमंद होता है. उबालकर उसे ठंडा करें और दिन में चार से पांच बार पिएं. इससे आपके शरीर की इम्यूनिटी बढ़ती है. 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad