जातीय जनगणना पर बोले सीएम नीतीश कोई जल्दवाजी नही। - Ideal India News

Post Top Ad

जातीय जनगणना पर बोले सीएम नीतीश कोई जल्दवाजी नही।

Share This
#IIN

जातीय जनगणना पर बोले सीएम नीतीश कोई जल्दवाजी नही।

पीएम से मुलाकात के बाद ही आगे का निर्णय।




विश्वनाथ प्रसाद गुप्ता,ब्यूरो चीफ बिहार।



पटना।   जनता दरबार कार्यक्रम समाप्त होने के बाद पत्रकार वार्ता के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने जातीय जनगणना पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने विपक्षी दल राजद पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि हमें खुद ही जातीय जनगणना करा लेनी चाहिए, ये ठीक नहीं है। निर्णय केंद्र सरकार को लेना है। इस मुद्दे पर बताचीत करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा गया है। वे जब बुलाएंगे, तब इस बिषय पर चर्चा होने के बाद आगे का निर्णय लिया जाएगा।उन्होंने राज्य सरकार द्वारा जातीय जनगणना कराने के बारे में कहा इतना जल्दी किसी निष्कर्ष पर पहुंचना राज्य की सेहत के लिए ठीक नहीं है।
सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि जातीय जनगणना होनी चहिये। जातीय जनगणना से नई पीढ़ी को विषय बस्तु की जानकारी मिलेगी। कई राज्यों ने पहल करते हुवे खुद ही जातीय जनगणना कराई है। लेकिन हम पीएम से बात करके ही किसी निर्णय तक पहुंचेंगे।नीतीश ने कहा कि अगल-अलग जातियों की जानकारी से उनके संरक्षण के लिए बेहतर कार्य हो सकेंगे। आंकड़ा आने से सबका विकास हो सकेगा।
बता दें कि बिहार में जातीय जनगणना को लेकर सियासत हावी है। इसको लेकर विपक्ष खासकर राजद केंद्र के साथ राज्य सरकार को भी कटघरे में घेर रही है। साथ ही राजद राज्य सरकार से मांग कर रही है कि यदि केंद्र द्वारा जातीय जनगणना नहीं कराई जा रही है, तो राज्य सरकार  स्वयं के पैसे से करावाये। वहीं सीएम नीतीश केंद्र सरकार के फैसले का इंतजार कर रहे है।
वहीं जातीय जनगणना को लेकर बिहार के उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता रेणु ने स्पष्ट कह दिया कि केंद्र नहीं करवाएगी। जातीय जनगणना, राज्य सरकार  करवाने के लिए स्वतंत्र है। जातीय जनगणना को लेकर भाजपा का स्पष्ट रूख है कि देश में अनुसूचित जाति और जनजाति को छोड़कर पूरे देश का सम्लित  जनगणना हो।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad