पिता से भेटकर दिल्ली से पटना लौटे लालू के बड़े लाल ने फिर प्रदेश अध्यक्ष को सताया। - Ideal India News

Post Top Ad

पिता से भेटकर दिल्ली से पटना लौटे लालू के बड़े लाल ने फिर प्रदेश अध्यक्ष को सताया।

Share This
#IIN

पिता से भेटकर दिल्ली से पटना लौटे लालू के बड़े लाल ने फिर प्रदेश अध्यक्ष को सताया।

 तेजप्रताप ने जब लालू के कार्यालय कक्ष में बुलाया तो गुस्से में आपा खो कार्यालय से बाहर निकल गए जगदानंद।

 घंटों चला हाईप्रोफाइल ड्रामा।

विश्वनाथ प्रसाद गुप्ता,ब्यूरो चीफ बिहार।




पटना।  राजद कार्यालय में शनिवार को लालू के बड़े लाल तेजप्रताप के राजतंत्र नीति के कारण एक बार फिर हाईप्रोफाइल ड्रामे का नजारा देखने को मिला। अपने पिता व राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद से मिलकर दिल्ली से पटना पहुंचते ही तेजप्रताप यादव राजद कार्यालय में आ धमके,और पिता लालू प्रसाद के चेंबर में बैठकर प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को आने का बुलावा भेजा दिया। इससे गुस्साकर जगदानंद सिंह तमतमाते हुए कार्यालय से बाहर चले गए। 
तेजप्रताप के राजद कार्यालय पहुंचने एवं तानाशाही व हिटलर गिरी की खबर दिल्ली में बैठे लालू प्रसाद तक पहुंचते ही उन्होंने स्थिति को बिगड़ने से बचाने के लिए विधान पार्षद सुनील सिंह को तेजप्रताप के पास भेजा। सुनील सिंह ने बंद कमरे में तेजप्रताप से गुफ्तगू की और उन्हें मनाकर लालू के चेंबर से अलग दूसरे कक्ष में बैठाया। 
जगदानंद सिंह के राजद कार्यालय से बाहर निकलते ही सुनील सिंह भी तेजप्रताप के साथ बाहर निकल गए। जाते-जाते तेजप्रताप यादव यह कहने से भी वाज नही आए कि वे पहले भी कार्यालय आते रहे हैं और आगे भी आते रहेंगे। 

जगदानंद मीडिया पर भी बिफरे।

राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी के माध्यम से तेजप्रताप का बुलावा का संदेश मिलते ही जगदानंद सिंह तुरंत अपने चेम्बर से बाहर निकल गए। इसी बीच वहां पहुंची मीडिया पर भी जगदानंद सिंह बिफर पड़े।मीडिया के सवालों का जबाब देने की वजाय उन्होंने कहा कि ऐसे करोगे तो आगे से इंट्री  बंद करा दूंगा। जगदानंद सिंह के गुस्से के बारे में पूछने पर सुनील सिंह ने कहा कि जगदानंद सिंह हमेशा गंभीर रहते हैं।वे गुस्से में नही है।

आकाश के जाने से फर्क नहीं।

तेजप्रताप ने राजद कार्यालय परिसर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि आकाश यादव के लोजपा (पारस गुट) में शामिल होने से उनकी सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ता है। इससे केवल मीडिया को लॉस हुआ है। कहा कि देश में लोकतंत्र है और लोकतंत्र में अपनी बात कहने का सबको अधिकार है। वैसे अपने करीबी समझे जाने वाले आकाश यादव का पार्टी छोड़ना तेजप्रताप के लिए सियासी झटका माना जा रहा है। आकाश के छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटने के कारण तेजप्रताप और जगदानंद सिंह के बीच जुबानी जंग हुई थी। 

दिल्ली में लालू से मिलकर आए हैं तेजप्रताप।
 
दिल्ली- वृंदावन से लौटने के बाद तेजप्रताप के तेवर के बारे में चर्चा है कि उन्होंने दिल्ली में अपने पिता लालू प्रसाद से मिलकर भी अपनी बात रखी है। और लालू ने उन्हें सब कुछ ठीक करने का भी भरोसा दिया है। दिल्ली में तेजप्रताप के मेजबान बने चैतन्य पालित को लेकर भी सियासी हलके में कयासों का बाजार गर्म है। चैतन्य पालित ने तेजप्रताप के साथ जाकर लालू प्रसाद से मुलाकात की है। चैतन्य बिहार में प्रोफेशनल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे चुके हैं।

कपिल शर्मा शो में जाने को तैयार हैं तेजप्रताप।

तेजप्रताप ने बताया कि उन्हें कपिल शर्मा शो में भाग लेने का न्योता मिला है। वे फ्लाइट के टिकट का इंतजार कर रहे हैं। फ्लाइट का टिकट मिलने पर वे शो में भाग लेने जरूर जाएंगे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad