उचित मंच न मिलने से मर रही लोगों की कलाकारी—चन्दन सेठ, - Ideal India News

Post Top Ad

उचित मंच न मिलने से मर रही लोगों की कलाकारी—चन्दन सेठ,

Share This
#IIN

*उचित मंच न मिलने से मर रही लोगों की कलाकारी—चन्दन सेठ*

*"अन्तरराष्ट्रीय गायिका पारूल नंदा के साथ दिखाई देंगे हिन्दी शार्ट फिल्म 'रहस्य' में"*


एजाज़ अहमद
जलालपुर (जौनपुर)—



          उत्तर प्रदेश में कलाकारों की कमी नही है लेकिन उन्हे उचित मंच नही मिल पाता है जिसके चलते वे अपनी कला को जनता के बीच नही  पहुंचा पाते।
     जरूरत है केन्द्र व प्रदेश सरकार को ऐसे कलाकारों को मदद करने की जिससे न सिर्फ अपने प्रदेश का, बल्कि देश का भी नाम फिल्मी दुनिया में रोशन कर सकें।
        उक्त बातें क्षेत्रिय भोजपुरी फिल्म अभिनेता चन्दन सेठ ने सोमवार को त्रिलोचन महादेव बाजार में अपने निवास स्थान पर पत्रकारों से वार्ता करते हुये कही।श्री सेठ ने कहा कि यदि सरकार अच्छी फिल्मों को सब्बिडी मुहैया कराये तो वो दिन दूर नही जब उत्तर प्रदेश भी एक बड़ी फिल्म इण्डस्ट्री बन जायेगी। देखा जाय तो इसी उत्तर प्रदेश से सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से लेकर तमाम कलाकारों ने अपने अभिनय के दम पर पूरे विश्व में अपनी पहचान बनायी है। इनके सुपर हिट एल्बम जा जा ए बेवफा, इ गम आखिरी हअ, गोल्डेन हार, जुदाई तड़पावेला, कइसे कही पिया से, स्मार्ट फोनवा समेत दर्जनों एल्बम में अपने अभिनय का लोहा मनवा चुके हैं।
     बताया कि हिन्दी शार्ट फिल्म "रहस्य" में जौनपुर जिले की अन्तरराष्ट्रीय गायिका पारूल नंदा के साथ में दिखाई देंगे। जिसकी शूटींग बहोत जल्द जौनपुर जिले सहित वाराणसी जिले के रमणीय स्थलो पर की जाएगी। इसके साथ इनकी आने वाली भोजपुरी फिल्में सूर्या, रंगीला बनारस है। जौनपुर से पधारी अन्तरराष्ट्रीय गायिका व अभिनेत्री पारूल नंदा व चन्दन सेठ ने त्रिलोचन महादेव स्थित प्राचीन व ऐतिहासिक शिव मंदिर पर दर्शन-पूजन कर मत्था टेका।
      इस अवसर पर फिल्म पीआरो सुनिल प्रजापति, संदीप अग्रहरि, नीरज गिरि, सुदर्शन मिश्रा, संगम जायसवाल समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad