जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का नांव से भ्रमण कर स्थिति का लिया जायजा, बाढ़ राहत केन्द्रों का भी किया निरीक्षण - Ideal India News

Post Top Ad

जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का नांव से भ्रमण कर स्थिति का लिया जायजा, बाढ़ राहत केन्द्रों का भी किया निरीक्षण

Share This
#IIN

जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का नांव से भ्रमण कर स्थिति का लिया जायजा, बाढ़ राहत केन्द्रों का भी किया निरीक्षण

मोनू महेवा प्रयागराज




बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों तथा बाढ़ राहत केन्द्रों पर सभी आवश्यक व्यवस्थाओं की सुनिश्चितता बनाये रखने हेतु मजिस्टेªटों की की गयी तैनाती

जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में नाव के द्वारा निरंतर पेट्रोलिंग करते हुए स्थिति का जायजा लेते रहने के दिए निर्देश

जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री रविवार को दारागंज, बघाड़ा, सलोरी एवं राजापुर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने दारागंज से एनडीआरएफ टीम के साथ नांव से छोटा बघाड़ा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण कर वहां के लोगो से जानकारी ली तथा उन लोगो को बनाये गये बाढ़ राहत केन्द्रों में अवस्थापित होने के लिए कहा है। उन्होंने सम्बंधित अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये है साथ ही साथ नांवों से निरंतर भ्रमणशील रहकर स्थिति पर नजर बनाये रखने के लिए भी निर्देशित किया है। जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सभी आवश्यक व्यवस्थाओं की सुनिश्चितता बनाये रखने के लिए मजिस्टेªटों तथा लेखपालों की ड्यूटी लगाये जाने के साथ-साथ सम्बंधित को निरंतर भ्रमणशील रहकर आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के लिए कहा है। जिलाधिकारी ने गंगा एवं यमुना नदियों के निरंतर बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए कछारी मोहल्लों एवं तटीय ग्रामों में बाढ़ से प्रभावित हो रहे क्षेत्रों में आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के लिए तत्काल प्रभाव से मजिस्टेªटोें की तैनाती की है, जिसके क्रम में खुल्दाबाद, करेली एवं शाहगंज, कोतवाली थानाक्षेत्रों के लिए नगर मजिस्टेªट, कर्नलगंज एवं शिवकुटी के लिए अपर नगर मजिस्टेªट प्रथम, धूमनगंज, कैण्ट एवं सिविल लाइंस के लिए अपर मजिस्टेªट द्वितीय, अतरसुईया एवं मुट्ठीगंज के लिए अपर नगर मजिस्टेªट तृतीय तथा दारागंज, कीटगंज एवं जार्जटाउन थाना क्षेत्र के लिए अपर नगर मजिस्टेªट चतुर्थ की तैनाती सुनिश्चित की गयी है। जिलाधिकारी ने मजिस्टेªटों को अपने-अपने क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले तटीय इलाकों में निरंतर भ्रमणशील रहकर व्यवस्था बनाये रखने एवं बाढ़ से प्रभावित परिवारों को बाढ़ राहत केन्द्रों में निवासित कराना सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया है।
जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के भ्रमण के बाद बनाये गये बाढ़ राहत केन्द्रों का भी निरीक्षण किया। उन्होंने ऋषिकुल उत्तर माध्यमिक विद्यालय, कैण्ट हाईस्कूल, महबूब अली इण्टर कालेज तथा अन्य बाढ़ राहत केन्द्रों का भ्रमण कर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व तथा उपजिलाधिकारी सदर तथा सम्बंधित मजिस्टेªटों को बाढ़ राहत केन्द्रों पर सभी आवश्यक व्यवस्थायें जिसमें खाने, पीने के पानी, शौचालय, प्रकाश, साफ-सफाई सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं की निरंतर सुनिश्चितता बनाये रखने के लिए कहा है। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि प्रत्येक बाढ़ राहत केन्द्र पर 24 घण्टे के लिए शिफ्ट वाइस लेखपालों की तैनाती सुनिश्चित बनाये रखा जाये। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि यदि बाढ़ राहत केन्द्रों पर कोई भी कमी पायी जाये, तो तत्काल उसकों दूर करते हुए व्यवस्थायें सुनिश्चित रखी जाये। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देशित किया है कि बाढ़ राहत केन्द्रों पर यदि किसी भी प्रकार की कमी पायी गयी, तो उसको लिए ड्यूटी पर तैनात सम्बंधित लेखपाल की जिम्मेदारी तय की जायेगी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व एम0पी0 सिंह, एडीएम सिटी श्री अशोक कुमार कनौजिया, उपजिलाधिकारी सदर श्री विवेक चतुर्वेदी सहित अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad