वाराणसी: मिर्जापुर के बाद काशी पहुंचे गृह मंत्री शाह और सीएम योगी, बाबा विश्वनाथ का लिया आशीर्वाद - Ideal India News

Post Top Ad

वाराणसी: मिर्जापुर के बाद काशी पहुंचे गृह मंत्री शाह और सीएम योगी, बाबा विश्वनाथ का लिया आशीर्वाद

Share This
#IIN

वाराणसी: मिर्जापुर के बाद काशी पहुंचे गृह मंत्री शाह और सीएम योगी, बाबा विश्वनाथ का लिया आशीर्वाद,
भूपेंद्र अग्रहरि वाराणसी



गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन कर आशीर्वाद लिया। काशीपुराधिपति के दर्शन पूजन के बाद गृहमंत्री ने निर्माणाधीन श्री काशी विश्वनाथ धाम के चल रहे कार्यों का जायजा भी लिया। धाम की भव्यता को देखकर गृहमंत्री ने इसकी सराहना की। मिर्जापुर दौरे के बाद  रविवार की शाम 5:40 बजे गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ विश्वनाथ मंदिर पहुंचे। गर्भगृह में षोडशोपचार पूजन के बाद गृहमंत्री व मुख्यमंत्री 5:56 बजे निकले। इसके बाद वह काशी विश्वनाथ धाम में चल रहे निर्माण कार्य को देखने पहुंचे।


मंदिर चौक से खड़े होकर गृहमंत्री ने पूरे परिसर का मुआयना किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गृहमंत्री को श्री काशी विश्वनाथ धाम में चल रहे कार्य व पूरी योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। काशी विश्वनाथ धाम का 16 मिनट तक मुआयना करने के बाद गृहमंत्री मंदिर क्षेत्र से 6:14 बजे निकल गए। अमित शाह ने बाबतपुर एयरपोर्ट से विशेष विमान से 6:55 बजे दिल्ली के लिए प्रस्थान किया। वहीं गृह मंत्री को विदा करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राजकीय विमान से 7:05 बजे लखनऊ के लिए प्रस्थान किया। 

गृह मंत्री ने विंध्य कॉरिडोर का शिलान्यास किया
मिर्जापुर पहुंचने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने मां विंध्यवासिनी मंदिर में दर्शन पूजन किया। इसके बाद उन्होंने विंध्य कॉरिडोर के लिए भूमि पूजन किया। करीब साढ़े तीन बजे वो सड़क मार्ग से राजकीय इंटर कॉलेज (जीआईसी) के लिए निकल गए। जहां उन्होंने जीआईसी ग्राउंड में जनसभा को संबोधित किया। साथ ही यहीं पर विंध्य कारिडोर का शिलान्यास व रोप-वे का लोकार्पण किया। शनिवार को गृह मंत्री ने प्रथम फेज का शिलान्यास किया है। जिसकी लागत लागत 128 करोड़ रुपये है। पूरे कॉरिडोर में लागत लगभग 350 करोड़ रुपये आएगी।

मिर्जापुर में बोले अमित शाह-
मिर्जापुर के जीआईसी मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि मिर्जापुर, चंदौली और सोनभद्र नक्सलवाद के प्रभाव से पूर्ण रूप से मुक्त हो चुके हैं। उत्तर प्रदेश में 1,574 करोड़ रुपये की माफियाओं की संपत्ति जब्त की गई है। लूट, डकैती, हत्या जैसी घटनाओं में 28 से 50 प्रतिशत तक की कमी दर्ज की गई है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad