विश्व हिन्दू सेना प्रमुख अरुण पाठक ने नारायण राणे का सर कलम करने पर रखा 51 लाख का इनाम । - Ideal India News

Post Top Ad

विश्व हिन्दू सेना प्रमुख अरुण पाठक ने नारायण राणे का सर कलम करने पर रखा 51 लाख का इनाम ।

Share This
#IIN

विश्व हिन्दू सेना प्रमुख अरुण पाठक ने नारायण राणे का सर कलम करने पर रखा 51 लाख का इनाम ।


जयचन्द जलाली पट्टी वाराणसी



वाराणसी: लगातार विवादित बयानों को लेकर चर्चा में बने रहने वाले अरुण पाठक (विश्व हिन्दू सेना प्रमुख) ने अपने पर्सनल फेसबुक एकाउंट से इस बार केंद्रीय मंत्री नारायण राण पर सीधे तौर पर निशाना साधते हुये लिखा है कि" जिस पॉकेटमार  और टिकट ब्लैक में बेचने वालेको बालासाहेब दया करके शिवसैनिक बनाये उसे मुख्यमंत्री भी बनाये उसने घटिया काम किया सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए बाला साहेब के बेटे पर आक्रमण किया ऐसे आदमी का सर कलम करना चाहिए और ये जो करेगा उसे मैं 51 लाख का इनाम दूंगा।#विहिसे।"
ज्ञात हो कि अरुण पाठक पूर्व में लगभग 30 से 35 सालो से शिवसेना के कट्टर नेता के रूप में जाने जाते थे और बाला साहेब ठाकरे को अपना गुरु मानते है।

क्या था मामला
हाइलाइट्स-
हिरासत में लिए गए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे
उद्धव पर दिए बयान को लेकर अब तक 4 FIR
बॉम्बे हाईकोर्ट का राणे की अपील सुनने से इनकार
मैं वहां होता तो उन्हें (उद्धव) थप्पड़ मारताः राणे
केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की बीजेपी की जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान रायगढ़ में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर दिए गए बयान के बाद विवाद बढ़ता जा रहा है। बयान को लेकर राणे के खिलाफ चार अलग-अलग थानों में एफआईआर दर्ज कराई गई. फिर पहले उन्हें हिरासत में लिया गया लेकिन कुछ देर बाद गिरफ्तार कर लिया गया।

 मैंने कुछ गलत नहीं कहाः नारायण राणे-
केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने आजतक से खास बातचीत में कहा, 'वे मुझसे डरते हैं इसलिए ऐसा कर रहे हैं. मैंने कुछ गलत नहीं कहा.' उन्होंने अपने थप्पड़ वाले बयान को दोहराते हुए कहा अगर मैं वहां होता तो मैं उसे थप्पड़ मार देता.' उन्होंने कहा कि उस दिन होता तो, ऐसा करता. ऐसा मैंने आज के लिए नहीं कहा था। राणे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए यह भी कहा कि उनका बेटा सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियन केस में शामिल था. तब उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई तो मुझे क्यों गिरफ्तार किया जा रहा है. यह सरासर गलत है।
क्या इस गिरफ्तारी के बाद केंद्र बनाम महाराष्ट्र सरकार हो सकता है, के सवाल पर नारायण राणे ने कहा कि केंद्र से उनकी लड़ाई नहीं हो सकती. राज्य, केंद्र से नहीं लड़ सकता है. राणे ने कहा कि अभी मैं कुछ नहीं बोलूंगा हम ऐसा करने वालों पर फिर से कार्रवाई करेंगे।
वही ANI के अनुसार 
जब पुलिस नारायण राणे को गिरफ्तार करने पहुंची तो समर्थकों ने जमकर बवाल काटा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad