एक व्यक्ति को अपनी जमीन पर दबंगों द्वारा अवैध कब्जा करने को लेकर विगत 4 वर्षों से उच्चाधिकारियों के यहां लगा रहा चक्कर, नहीं मिला न्याय - Ideal India News

Post Top Ad

एक व्यक्ति को अपनी जमीन पर दबंगों द्वारा अवैध कब्जा करने को लेकर विगत 4 वर्षों से उच्चाधिकारियों के यहां लगा रहा चक्कर, नहीं मिला न्याय

Share This
#IIN

एक व्यक्ति को अपनी जमीन पर दबंगों द्वारा अवैध कब्जा करने को लेकर विगत 4 वर्षों से उच्चाधिकारियों के यहां लगा रहा चक्कर, नहीं मिला न्याय

पत्रकार - धर्मेन्द्र सेठ जौनपुर



जौनपुर - थाना लाइनबाजार अंतर्गत ग्राम व पोस्ट कुवरदा़ निवासी बिहारी लाल पुत्र स्वर्गीय रामदेव यादव की जमीन पर विगत कई वर्षों से पुश्तैनी मड़हा रखा था जिसमें बिहारीलाल अपने परिवार के साथ जीवन यापन करता था बिहारी लाल के दबंग पड़ोसी जिनके खिलाफ लाइनबाजार थाने में कई अपराधिक मामले में मुकदमा पंजीकृत, ऐसे दबंग व्यक्तियों द्वारा विगत 4 वर्ष पूर्व बिहारी लाल की पुश्तैनी मड़हा को गिरा कर अवैध कब्जा करने की नियत एवं जान से मारने की आए दिन मिलती हैं धमकी जिनके खिलाफ स्थानीय थाने व उच्च अधिकारियों को कई बार प्रार्थना पत्र दे अवगत कराया गया किंतु न जाने क्यु आज तक कभी भी इन दबंग व्यक्तियों के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई।

बिहारीलाल अपनी पुश्तैनी मड़हे गिराए जाने को लेकर 4 वर्षों से निरंतर अपने साथ हुए अन्याय के खिलाफ न्याय की गुहार के लिए जनपद के आला अधिकारियों के यहां लगा रहा है चक्कर अपनी जान माल की सुरक्षा के लिए निरंतर उच्च अधिकारियों के यहां लगा रहा गुहार, जिसके बाद भी कहीं नहीं मिल रहा है बिहारी लाल को न्याय, जबकि बिहारी लाल यादव अपने पुश्तैनी मड़हा को दबंगों द्वारा गिराए जाने के उपरांत तहसील दिवस थाना दिवस उच्च अधिकारियों के यहां लगातार शिकायती पत्र देता रहा किंतु आज तक नहीं हुई कोई सुनवाई, दबंग पड़ोसियों द्वारा बिहारी लाल के पुश्तैनी मड़हा पर कब्ज़ा के संदर्भ में बिहारी लाल के सभी कागजात बिहारी लाल के पक्ष में है उसके उपरांत भी आज तक बेबस लाचार बन बिहारी लाल यादव उच्च अधिकारियों के दफ्तर का लगा रहा है चक्कर, अब देखना यह है कि कब तक बिहारी लाल यादव को मिलेगा न्याय। यदि बिहारी लाल के साथ उसके दबंग पड़ोसी द्वारा उक्त जमीन को लेकर कोई अप्रिय घटना घटित होती हैं तो इसका जिम्मेदार कौन होगा?

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad