उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने प्रदेशवासियों को खुशखबरी दी है. - Ideal India News

Post Top Ad

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने प्रदेशवासियों को खुशखबरी दी है.

Share This
#IIN 

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने प्रदेशवासियों को खुशखबरी दी है.

हरिओम सिंह स्वराज लखनऊ



उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार ने प्रदेशवासियों को खुशखबरी दी है. योगी आदित्यनाथ सरकार (CM Yogi Adityanath) 74 हजार खाली पड़े पदों पर भर्ती की तैयारी कर रही है. सीएम ने सभी चयन बोर्डो और भर्ती आयोगों के अध्यक्षों के साथ बैठक में इन पदों पर भर्ती की प्रक्रिया तेजी से शुरू करने के निर्देश दिए हैं.

सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मिशन रोजगार में जुटे हैं. उन्होंने अपने आवास पर हुई बैठक में राज्य लोक सेवा आयोग, यूपी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, यूपी उच्चतर शिक्षा चयन आयोग और यूपी माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के अध्यक्षों के साथ बैठक कर कई पदों पर होने वाली भर्तियों की कार्य रूपरेखा की जानकारी ली.इस मौके पर प्रदेश के सभी आयोगों के अध्यक्ष और कई सीनियर अधिकारी आदि मौजूद रहें.

राज्य आयोग खाली पड़े पदों पर करेगा भर्ती

दरअसल प्रदेश में अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में 30000 पदों पर और उच्चतर शिक्षा चयन आयोग में 17000 पदों पर और माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में 27000 पद खाली पड़े हैं. मुख्यमंत्री ने इन आयोगों के अध्यक्षों को इन 74 हजार पदों पर चयन की भर्ती प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं. साथ ही सीएम ने बताया कि समूह ग के 30 हज़ार पदों पर भर्ती होगी. अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की प्रारम्भिक परीक्षा 20 अगस्त को होनी हैं.

भर्ती प्रक्रिया में पूरी तरह पारदर्शिता बरतने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री ने आयोग के अध्यक्षों को प्रतियोगी परीक्षाओं के आयोजन में पारदर्शिता लाने के निर्देश दिए. सीएम ने कहा कि प्रदेश में खराब छवि वाले विद्यालयों को परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाएगा. उन्होंने बताया कि हर हाल में परीक्षाएं में बिना नकल के और पारदर्शी ढंग से आयोजित की जाए.

अभ्यर्थियों का रखा जाए विशेष ध्यान

सीएम ने बड़ी परीक्षाएं मंडल स्तर पर और छोटी परीक्षाएं जिला स्तर पर कराने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़ी परीक्षाओं को मंडल स्तर पर और छोटी परीक्षाओं को जिला स्तर पर आयोजित करने पर गंभीरता से विचार किया जाना जाए. सरकारी भर्तियों के लिए एक्जाम के आयोजन के समय अभ्यर्थियों की सुविधाओं का भी विशेष रूप से ध्यान रखा जाए. साथ ही अभ्यर्थियों को एक्जाम देने के लिए ज्यादा दूरी तय न करनी पड़े.

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad