भूख से तङप रहे अंत्योदय योजना के लाभार्थी पजरांव गांव के काशी प्रसाद ने जब शुरू कीया अनशन तब मिला राशन। - Ideal India News

Post Top Ad

भूख से तङप रहे अंत्योदय योजना के लाभार्थी पजरांव गांव के काशी प्रसाद ने जब शुरू कीया अनशन तब मिला राशन।

Share This
#IIN

भूख से तङप रहे अंत्योदय योजना के लाभार्थी पजरांव गांव के काशी प्रसाद ने जब शुरू कीया अनशन तब मिला राशन।शिकायत के 5 दिन बाद जब बीडीओ ने डीलरो पर नही दिखाई सख्ती तो उनके समक्ष अनशन पर बैठा लाभार्थी। जदयू कार्यकर्ताओ ने किया सहयोग।

दीपक कुमार गुप्ता,बीयूरो चीफ कैमूर।


नुआंव। शिकायत के 5 दिनों बाद भी जब बीडीओ  सह एमओ रमन सिन्हा ने डीलरों पर नही दिखाई सख्ती तो अंत्योदय योजना के लाभार्थी ने उनके कार्यालय के सामने गांधी गिरी दिखाना शुरू कर दी।लाभार्थी के एमओ कार्यालय पर अनशन करने की सूचना जैसे ही बीडीओ को लगी उन्होंने तुरंत डीलर को तलब कर मामले को सलटाने में लग गए।परंतु जदयू प्रखंड अध्यक्ष ने इसे गंभीर मामला बताते हुवे बीडीओ से जब जांच कर दोषी डीलरों पर कार्रवाई की मांग की तो वे स्वयं जांच कर कार्रवाई करने का आश्वाशन दिया।बतादे की कोरोना काल मे गरीबो के हक की अनाज को लूटने वाले तथा कथित डीलरों की  मनमानी बिभाग की मिली भगत से चरम पर है।लिहाजा सरकार की महत्वाकांक्षी योजना वन नेशन वन कार्ड धरातल पर दम तोड़ रही है।पजरांव गांव निवासी अंत्योदय योजना के  कार्डधारी काशी प्रसाद ने गत गुरुवार को बीडीओ सह आपूर्ति पदाधिकारी रमन सिन्हा से लिखित शिकायत की थी कि हमारे गांव के तीनों डीलर स्टॉक खत्म होने की बात कह जून माह का राशन हमको नही दे रहे है।उन्होंने तत्काल राशन दिलवाने एवं तथाकथित डीलरों पर करवाई करने की मांग बीडीओ से की थी। पजरांव गांव निवासी 65 वर्षीय काशी प्रसाद ने बीडीओ को बताया था कि पहले हमको राशन पैक्स अध्यक्ष सह डीलर के यहां से मिलता था।जब मैं पिछले माह का अनाज का उठाव करने पैक्स में गया तो कहा गया कि हमारे पास अनाज का स्टॉक समाप्त हो गया है।जगदीश साह के यहां जाइये।जब जगदीश साह के यहां गया तो उन्होंने भी यही बात कहते हुवे श्रीनिवास राम के यहां जाने को बोले जब मैं श्रीनिवास राम के यहां गया तो उन्होंने कहा कि जहां से आप पहले लेते थे वही पर जाइए वही से अनाज आपको मिलेगा।उनका यह भी कहना था कि ब्योबृद्ध  होने एवं  शारीरिक दुर्बलता के कारण असहाय हो गया हूँ।जनवितरण प्रणाली का अनाज ही हमारा जीवन का सहारा है।कोरोना काल मे  हमारे गांव के तीनों डीलर मेरे हक का राशन न देकर मुझे इस अवस्था मे नाच नचा रहे है।अनाज के आभव में मैं 3 दिनों से फका कसी की जिंदगी जी रहा हूं।इस संबंध में जदयू प्रखंड अध्यक्ष विश्वनाथ गुप्ता ने भी बीडीओ को जांच कर कार्रवाई करने का आग्रह किया था।इसके बाद बीडीओ ने पैक्स अध्यक्ष को लाभार्थी को अनाज देने का निर्देश दिया था।लेकिन जब 5 दिन बाद भी डीलर द्वारा अनाज नही दिया गया तो मंगलवार को काशी प्रसाद ने अनशन शुरू कर दिया।इसके बाद हरकत में आए बीडीओ सह एमओ रमन सिन्हा ने अपने कार्यालय में संबंधित डीलर को तलब कर जमकर फटकार लगाई।तथा डीलर के साथ लाभुक को भेज तुरंत लाभार्थी के हक का राशन का उठाव उससे करवाया।पूरे मामले में पीङित लाभार्थी का सहयोगी बने जदयू कार्यकर्ताओ ने बीडीओ से आग्रह किया कि पूरे मामले की जांच कर शीघ्र कार्रवाई किया जाय।जिसपर बीडीओ ने स्वयं जांच कर कार्रवाई करने का आश्वाशन दिया।उधर अनशन धारी ने बीडीओ के माध्यम से सीएम व डीएम को ज्ञापन दे डीलरों पर कार्रवाई की मांग की है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad