आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव के बयान की कॉपी फाड़ने वाले टीएमसी सांसद का आरोप, कहा- हरदीप पुरी ने मुझे धमकाया - Ideal India News

Post Top Ad

आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव के बयान की कॉपी फाड़ने वाले टीएमसी सांसद का आरोप, कहा- हरदीप पुरी ने मुझे धमकाया

Share This
#IIN

आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव के बयान की कॉपी फाड़ने वाले टीएमसी सांसद का आरोप, कहा- हरदीप पुरी ने मुझे धमकाया,

Adarsh pandey

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सांसद शांतनु सेन ने आरोप लगाया है कि केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने राज्यसभा में उन्हें अपशब्द कहे और वह मारपीट करने वाले थे, लेकिन सहयोगियों ने उनको बचा लिया. सेन ने पेगासस मुद्दे पर मंत्री अश्विनी वैष्णव के भाषण की प्रति को छीन कर फाड़ दिया जब वह राज्यसभा में इसे पढ़ रहे थे. सेन ने दावा किया कि पुरी ने उनकी तरफ अशोभनीय इशारा किया.


सेन ने संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया, ‘‘केंद्रीय मंत्री ने मुझे धमकाया और मेरे साथ बदलसलूकी की. वह मुझसे मारपीट करने ही वाले थे कि मेरे अन्य सहयोगी मेरे बचाव में आ गए.’’ इससे पहले, गुरुवार को जोरदार हंगामा देखने को मिला और नौबत हाथापाई तक पहुंच गई. इसके बाद मार्शल को बीच-बचाव के लिए आना पड़ा. जिस वक्त सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव राज्यसभा में अपना बयान पढ़ रहे थे उसी दौरान तृणमूल कांग्रेस सांसद शांतनु सेन ने उनके हाथ से पेपर लेकर फाड़ दिया.


तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने राज्यसभा में कार्यवाही के दौरान कुछ कागज फाड़ डाले और उसके टुकड़ों को हवा में लहरा दिया. यह घटना उस वक्त हुई जब सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव पेगासस सॉफ्टवेयर के जरिये भारतीयों की जासूसी करने संबंधी खबरों और इस मामले में विपक्ष के आरोपों पर सदन में बयान दे रहे थे.


दो बार के स्थगन के बाद दोपहर दो बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही आरंभ हुई, उपसभापति हरिवंश ने बयान देने के लिए वैष्णव का नाम पुकारा. इसी समय, तृणमूल कांग्रेस और कुछ विपक्षी दल के सदस्य आसन के समीप आ गए. उन्होंने नारेबाजी आरंभ कर दी और संभवत: मंत्री के बयान की प्रति फाड़ कर उसके टुकड़े हवा में लहरा दिए.


केंद्रीय मंत्री वैष्णव हंगामे और शोरगुल के कारण अपना बयान पूरा नहीं पढ़ सके. लिहाजा उन्होंने इसे सदन के पटल पर रख दिया.


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad