पंचायत चुनाव में सरकार पर हिंसा फैलाने का प्रियंका गांधी ने लगाया आरोप - Ideal India News

Post Top Ad

पंचायत चुनाव में सरकार पर हिंसा फैलाने का प्रियंका गांधी ने लगाया आरोप

Share This
#IIN

पंचायत चुनाव में सरकार पर हिंसा फैलाने का प्रियंका गांधी ने लगाया आरोप,

Adarsh pandey



लखनऊ-》》 प्रिंयका शुक्रवार को गांधी प्रतिमा पर मौन धरना देने के बाद प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर पहुंचीं। वहां मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि यूपी में कानून-व्यवस्था एकदम ध्वस्त हो चुकी है। यही वजह है कि उन्होंने गांधी प्रतिमा पर मौन व्रत रखा। मौन इसलिए भी रखा कि देशवासियों का ध्यान इस ओर आकर्षित हो सके।प्रियंका ने कहा कि यूपी आए पीएम मोदी कोरोना और विकास के फ्रंट पर योगी सरकार के काम को अच्छा बताते हुए उसे प्रमाणपत्र दे गए।

 यह कैसा अच्छा काम है। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान पंचायत चुनाव कराए गए। बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हुए। चुनाव ड्यूटी करने वाले कितने शिक्षकों की मौत हुई। चुनाव यह सोचकर कराए गए कि परिणाम भाजपा के मनमुताबिक आएंगे। ऐसा नहीं हुआ तो सरकार ने जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में हिंसा फैला दी।

उम्मीदवारों के नामांकन पत्र फाड़ दिए गए। उन्हें घर से उठा लिया गया। महिला उम्मीदवारों को न सिर्फ मारा-पीटा, बल्कि उनके कपड़े तक फाड़े गए। तमाम जिलों में प्रशासन ने ही सदस्यों को सत्ता के इशारे पर धमकी दी। कहीं बम फूटे और कहीं हिंसा हुई। इस तरह सरकार यूपी में अराजकता फैला रही है। सरकार सोचती है कि जनता और विपक्ष इस सब पर मौन रहेगा। लेकिन, हकीकत में ऐसा नहीं है।

यूपी में महिलाएं असुरक्षित
कांग्रेस महासचिव ने कहा कि पिछले कुछ बरसों के हालात देखें तो संविधान और लोकतंत्र पर वार कोई नई बात नहीं है। इस काम में पुलिस और प्रशासन का लगातार इस्तेमाल हो रहा है। यहां हम जनता के पक्ष में बोलने आए हैं। एक सवाल के जवाब में प्रियंका ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को यूपी के हालात नहीं दिख रहे हैं। यहां महिलाएं असुरक्षित हैं। पीएम हिंसा फैलाने पर प्रदेश सरकार को बधाई दे रहे हैं। प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा ‘मोना’ने प्रदेश के हालात पर संक्षिप्त बात रखी।



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad