मौत बरहक़ है - मौलाना डॉक्टर अब्बास रजा नय्यर - Ideal India News

Post Top Ad

मौत बरहक़ है - मौलाना डॉक्टर अब्बास रजा नय्यर

Share This
#IIN 

मौत बरहक़ है - मौलाना डॉक्टर अब्बास रजा नय्यर

*जौनपुर नगर के पोस्ती खाना मोहल्ले में मरहूम तासीर हुसैन इब्ने नजीर हुसैन की ईसाले सवाब की मजलिस का आयोजन किया गया*


मजलिस में सोजख्वानी नजर हसन एडवोकेट पेश्खानी मुफ़्ती हाशिम मेंहदी, एहतेशाम जौनपुरी, नेजामत अली हैदर ने की मजलिस को खिताब करते हुए मौलाना डॉक्टर अब्बास रजा नय्यर जलालपुरी ने कहा कि मौत बरहक़ है, एक दिन सभी को इस फ़ानी दुनिया से जाना है। इसके साथ उन्होंने कहा कि अल्लाह ने इस जमीन पर जो सबसे बेहतरीन नेअमत हम लोगो को अता की हो वो वालिदैन है। जब हमारे वालिदैन इस दुनिया से चले जाते है तो उनकी याद मे मजलिस करते है ताकि उनकी रूह को सुकून मिल सके और अल्लाह ने कहा है कि अपने वालिदैन को याद किया करो।मजलिस के बाद अंजुमन हुसैनिया बलुआघाट ने मातम किया।

इस मौके शमशीर हसन डा दिलगीर हसन अमन की शान न्यूज़ पेपर के संपादक मेंहदी हुसैन रिज़वी सामिन, ब्यूरो चीफ तामीर हसन सीबू, आदिल ताज  दानिश, मौलाना मुर्तुज़ा, कबीर गुलाल खान, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष फैसल हसन तबरेज, रूमी आब्दी शाहिद मेंहदी अर्शी अलमदार हुसैन रिज़वी शहंशाह हुसैन मेराज हैदर खादिम अब्बास आदिल हुसैन नायब हैदर सोनू बब्बी खां सुलतान हैदर शजर हसन समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad