इमाम खुमैनी के इस्लामी इन्क़लाब ने दुनिया के कमज़ोरों को बराबरी से जीने का हक़ दिलाया । असलम नक़्वी - Ideal India News

Post Top Ad

इमाम खुमैनी के इस्लामी इन्क़लाब ने दुनिया के कमज़ोरों को बराबरी से जीने का हक़ दिलाया । असलम नक़्वी

Share This
#IIN

A M Daisy Jaunpur
इमाम खुमैनी की 32 वीं बरसी मनाई गई

इमाम खुमैनी  के इस्लामी इन्क़लाब ने दुनिया के कमज़ोरों  को बराबरी से जीने का हक़ दिलाया । असलम नक़्वी 
जौनपुर 






इमाम ख़ुमैनी की 32 वीं बरसी के मौक़े पर शेख़ नूरुल हसन मेमोरियल सोसायटी के कार्यलय में इमाम ख़ुमैनी( र.अ) के 32 वीं बरसी के मौक़े पर उनको खिराजे अक़ीदत पेश की गई ।  शिया जामा मस्जिद के प्रवक्ता सैय्यद असलम नक़वी ने कहा कि इमाम ख़ुमैनी द्वारा ईरान में लाई गई क्रांति समरसता पर आधारित थी इस इस्लामी इन्क़लाब  ने कमज़ोरों को बराबरी हक़ दिलाया । शेख़ नूरुल हसन मेमोरियल ट्रस्ट के प्रबंध सचिव  एवं शिया जामा मस्जिद के मुतवल्ली  शेख़ अली  मंज़र डेज़ी ने कहा कि इमाम ख़ुमैनी जैसी शख़्सियत सदियों में पैदा होती हैं उनके बताए हुए रास्ते पर चलकर हम सब इस्लाम की सच्चाई को दुनिया के सामने सही तरीक़े से पेश कर सकते हैं अन्त में उपस्थित जनो ने आयतुल्लाह उल उज़्मा सैय्यद रुहूल्लाह मुसवी ख़ुमैनी के इसाले सवाब के लिए फातेहा ख़ानी की ।
हसीन अहमद मोहम्मद नासिर रज़ा गुड्डू , दानिश अलमदार हिन्दी , अली औन आसिफ आब्दी इत्यादि ने फातेहा ख़ानी में उपस्थित होकर इमाम ख़ुमैनी की मग़फेरत के लिए दुआ की ।
इसी क्रम में हुसैनी फोरम इन्डिया के अध्यक्ष हाजी सैय्यद मोहम्मद हसन ने इमाम ख़ुमैनी की बरसी के मौक़े पर  अपने एक संदेश में कहा कि आज जब इस्लाम दुश्मन ताकतें इस्लाम के खिलाफ तरह  तरह की साज़िशें रच रही हैं ऐसे में इमाम ख़ुमैनी के इस्लामी इन्क़लाब का महत्व मुसलमानों को समझ में आ रहा है । उन्होंने कहा कि इमाम ख़ुमैनी को सच्ची श्रद्धांजलि यही है कि हम उनके मिशन को कामयाब बनाने के भागीदार बनें ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad