*सजा याफ्ता कैदी के मौत के बाद जेल में कैदियों ने किया बवाल, छोड़े गए आशू गैस के गोले* - Ideal India News

Post Top Ad

*सजा याफ्ता कैदी के मौत के बाद जेल में कैदियों ने किया बवाल, छोड़े गए आशू गैस के गोले*

Share This
#IIN.


Dinesh Kumar Gupta

जौनपुर
जिला जेल में बंद सज़ा याफ्ता कैदी की बीमारी के चलते मौत हो गई । कैदी की मौत की खबर मिलते ही जेल प्रशासन में हड़कम्प मच गया । कैदी के मौत की खबर मिलते ही कैदियों में भारी आक्रोश व्याप्त हो गया , कैदियों ने जेल अस्पताल में तोड़फोड़ करने के बाद उत्पात मचाया है , स्थिति को काबू में करने के लिए डीएम एसपी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए है , लेकिन कैदियों द्वारा की जा रही पत्थर बाज़ी के कारण पुलिस आँसू गैस के गोले छोड़ रही है ।  

रामपुर थाना क्षेत्र के बानीडीह गांव का निवासी बागीश मिश्र उर्फ सरपंच को बीते छह जनवरी को हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सज़ा हुआ था , जेलर ने बताया कि कल रात उसकी हालत खराब हो गई , उसे पहले जेल के अस्पताल में भर्ती किया गया , आज उसकी हालत नाजुक होने पर जिला अस्पताल भेजा गया  अस्पताल पहुंचने से पहले उसकी मौत हो गई ।

सजायाफ्ता कैदियों और बंदियों ने जेल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए तोड़फोड़ की। बैरकों से बाहर आकर कैदियों ने जेल पर कब्जा कर लिया। पगली घंटी बजने के बाद पीएसी सहित कई थानों की फोर्स जेल के अंदर पहुंची। हालात बेकाबू होने पर पुलिस ने कैदियों को नियंत्रित करने के लिए कई राउंड आंसू गैसे के गोले दागे। घंटों तक हंगामा चलता रहा। कैदियों ने गैस सिलिंडर को भी कब्जे में ले लिया था। बताया जा रहा है कि आक्रोशित बंदी अंदर तोड़फोड़ करने के साथ ही पुलिस पर पथराव कर रहे थे। शाम करीब साढ़े 4 बजे डीएम मनीष कुमार वर्मा और एसपी राजकरन नय्यर भी जेल में पहुंचे। ड्रोन कैमरे की मदद से पुलिस जेल के अंदर के हालात की निगरानी कर रही है। जेल के बाहर भी सुरक्षा बढ़ाई गई। बार-बार लाउडस्पीकर से हिदायत दी जा रही है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad