बोकारो में करोड़ों मूल्य के यूरेनियम के साथ सात तस्कर को पुलिस ने धर दबोचा - Ideal India News

Post Top Ad

बोकारो में करोड़ों मूल्य के यूरेनियम के साथ सात तस्कर को पुलिस ने धर दबोचा

Share This
#IIN

कमल कुमार कश्यप
 रांची झारखंड बिहार

 बोकारो में करोड़ों मूल्य के यूरेनियम के साथ सात तस्कर को पुलिस ने धर दबोचा
लेदर के पैकेट व बोरे में कर रखा था पैक पैकेट में लिखा है मेड इन यूएसए

 गिरिडीह के तस्करों ने बोकारो के युवकों को दिया था यूरेनियम, पुरुलिया भी भेजी गई है खेप

 सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े, एनआईए टेक ओवर कर सकती है मामला




 मुंबई में यूरेनियम और लखनऊ में कैलिफोर्नियम  पकड़े जाने के बाद अब झारखंड के बोकारो में रेडियो एक्टिव पदार्थ यूरेनियम की तस्करी का बड़ा मामला सामने आया है| यहां पुलिस ने 6 किलो 300 ग्राम यूरेनियम के साथ सात तस्करों को गिरफ्तार किया है, बरामद यूरेनियम का बाजार मूल्य करोड़ों में है| यूरेनियम के परमाणु बम के निर्माण व नाभिकीय संयंत्रों में इस्तेमाल होने के कारण सुरक्षा एजेंसियों के भी कान खड़े हो गए हैं मामले को एनआईए को सौंपी जाने की भी बात कही जा रही है|
 बोकारो एसपी चंदन झा के अनुसार उन्हें सूचना मिली थी कि बोकारो के हंसला थाना क्षेत्र के पुरनटाड रानीपोखर गांव में कुछ लोग प्रतिबंधित रेडियो एक्टिव पदार्थ यूरेनियम की बिक्री करने के लिए ग्राहक खोज रहे हैं| इसके बाद वहां छापेमारी कर पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया इसके बाद चास व जरीडीह में भी छापेमारी कर तीनों स्थानों से कुल 7 तस्करों को गिरफ्तार किया इन सभी तस्करों के पास से कुल 6 किलो 300 ग्राम यूरेनियम बरामद किया गया| बरामद यूरेनियम के खरीददार कौन हैं और यह खेप तस्करों के पास कहां से आई इस बिंदु पर जांच चल रही है|
   पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार प्रारंभिक छानबीन में पूरा मामला यूरेनियम की अंतरराष्ट्रीय तस्करी का लग रहा है| पुलिस ने जांच के लिए झारखंड के जादूगोडा में स्थित यूरेनियम कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया लिमिटेड भेज रही है| जहां के विशेषज्ञ बताएंगे कि बरामद सामग्री यूरेनियम है या नहीं |
वही हरला थाना इंचार्ज जय गोविंद प्रसाद गुप्ता के बयान पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की है बरामद यूरेनियम लेदर के पैकेट में पैक है| हरला थाना जाट जय गोविंद प्रसाद गुप्ता के बयान पर प्राथमिकी में कहा गया है कि प्राप्त इनपुट की आधार पर पुलिस ने पुरनाटाड रानीपोखर के दीपक कुमार महतो के घर पर छापेमारी कर पांच लोगों की गिरफ्तारी की इन सभी ने बताया कि चास बोकारो के बापी नाम के व्यक्ति ने यूरेनियम का ग्राहक खोजने के लिए कहा था बापी को यूरेनियम के नमूने के साथ गिरफ्तार कर लिए जाने के बाद उसने जरीडीह के अनिल से नमूना मिलने की बात कही| इसके बाद जरीडीह से 4 किलो से अधिक यूरेनियम बरामद हुआ|  अनिल उसे गिरिडीह के निमियाघाट निवासी मुन्ना उर्फ ईशाक ने यूरेनियम बेचने को दिया था| वही यूरेनियम के जानकार डा डी के सिह व्याख्याता रसायन विज्ञान विभाग बीबीएमकेयू धनबाद ने बताया कि संबंधित यूरेनियम  का प्रयोग परमाणु संयंत्र में ऊर्जा उत्पादन के लिए होता है| इससे खतरनाक परमाणु बम बनते हैं, इसे कार्बन पेपर में लपेटने से विकिरण कम हो सकता है| चिकित्सा मानव स्वास्थ के लिए खतरनाक है, जो कैंसर समेत कई प्रकार के रूपों का कारण बन सकता है|
 वहीं दूसरी तरफ यूसील कार्मिक एवं औद्योगिक संपर्क महाप्रबंधक एसके शर्मा ने कहा कि जादूगोड़ा में आज तक कभी भी यूरेनियम चोरी की घटना नहीं हुई है| हमारे पास अगर बरामद सामग्री के सैंपल आएंगे तो हम लोग उसकी जांच कर बता देंगे, कि बरामद सामग्री यूरेनियम है या नहीं|

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad