विश्वविद्यालय प्रशासन पर परीक्षा केंद्र निर्धारण में भेदभाव करने का आरोप - Ideal India News

Post Top Ad

विश्वविद्यालय प्रशासन पर परीक्षा केंद्र निर्धारण में भेदभाव करने का आरोप

Share This
#IIN

विश्वविद्यालय प्रशासन पर परीक्षा केंद्र निर्धारण में भेदभाव करने का आरोप
 
डा एस के गुप्ता 



गाजीपुर जिले के एक ही जाति विशेष के कई महाविद्यालय प्रबंधकों ने किया शिकायत
जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय द्वारा परीक्षा केंद्रों का निर्धारण होते ही भेदभाव के आरोप लगने लगे हैं।गाजीपुर जिले के एक ही जाति विशेष के डेढ़ दर्जन महाविद्यालय का परीक्षा केंद्र इस बार अचानक बदल दिया गया। इससे छात्रों को परीक्षा के दौरान दिक्कत उठानी पड़ेगी।



पूर्वांचल विश्वविद्यालय स्नातक द्वितीय और तृतीय वर्ष और स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष की परीक्षा 5 जुलाई से 3 अगस्त के बीच तीन  पालियों में संपन्न होनी है।परीक्षा का समय डेढ़ घंटा होगा। पूर्वांचल विश्वविद्यालय द्वारा परीक्षा केंद्रों की सूची जारी होते ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। गाजीपुर जनपद में एक ही जाति विशेष के करीब डेढ़ दर्जन महाविद्यालय का परीक्षा केंद्र बदल दिया गया। महाविद्यालय संचालकों ने विश्वविद्यालय प्रशासन पर भेदभाव का आरोप लगाया है।महाविद्यालय संचालकों का कहना है कि भेदभाव की वजह से ही परीक्षा केंद्र को बदल दिया गया है,जिससे विद्यार्थियों को अधिक दूरी तय कर परीक्षा देनी पड़ेगी। और इससे महाविद्यालय को भी काफी दिक्कत उठानी पड़ेगी। इस संबंध में विश्वविद्यालय के एक जिम्मेदार अधिकारी से बात की गई तो उनका कहना साफ था कि इस बार परीक्षा केंद्र निर्धारण का फैसला परीक्षा संचालन समिति ने लिया है।समिति ने जिसे तय किया है, उसी को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। फिलहाल संशोधित सूची विश्वविद्यालय के सहायक कुलसचिव अमृतलाल व  परीक्षा नियंत्रक बीएन सिंह की निगरानी में सोमवार की रात तैयार की जा रही थी। अब देखना है कि यह सूची जारी होने के बाद महाविद्यालय संचालक व प्रबंधक की तरफ से क्या प्रतिक्रिया होती है

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad