नकली और अधो मानक दवाओं पर रोक निहायत जरूरी संगठन अवैध दवा व्यवसाय के खिलाफ चलाएगा अभियान - Ideal India News

Post Top Ad

नकली और अधो मानक दवाओं पर रोक निहायत जरूरी संगठन अवैध दवा व्यवसाय के खिलाफ चलाएगा अभियान

Share This
#IIN 

डा आर पी विश्वकर्मा जौनपुर 

नकली और अधो मानक दवाओं पर रोक निहायत जरूरी संगठन अवैध दवा व्यवसाय के खिलाफ चलाएगा अभियान 



जौनपुर:- जनपद के अग्रणी दवा संगठन केमिस्ट एंड कॉस्मेटिक वेलफेयर एसोसिएशन के सहयोगी शाखा रिटेलर्स फोरम ने ऐलान किया है कि वह अवैध दवा व्यवसाय के खिलाफ अभियान चलाएगा। रविवार को नगर के एक होटल के सभागार में आयोजित गोष्ठी 'जियो और जीने दो'  चर्चा में हिस्सा लेते हुए नगर के फुटकर दवा व्यवसायियों ने इस संबंध में एक स्वर से मांग की। वक्ताओं ने थोक दवा लाइसेंस पर दवाओं की फुटकर  बिक्री करने की बढ़ रही प्रवृत्ति पर चिंता व्यक्त करते हुए इस अवैध बिजनेस को तत्काल रोके जाने की मांग की।
 चर्चा में हिस्सा लेते हुए नगर के प्रमुख दवा व्यवसाई राजेश सिंह साईं ने कहा की अधोमानक और नकली दवाओं के सहारे डिस्काउंट का चारा डाल कर ग्राहकों को आकर्षित किया जा रहा है। जो इस व्यवसाय की तय मर्यादाओं और मानवीय मूल्यों के विरुद्ध है इस पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए। फुटकर दवा व्यवसाई धर्मेंद्र कुमार गुप्ता ने अपने उद्बबोधन में व्यवसाय की विसंगतियों की बृहद चर्चा की उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है फुटकर दवा व्यवसायी विधि सम्मत और नियमानुसार अपना व्यवसाय चलाएं । हमें दवा में डिस्काउंट की गला काट प्रतियोगिता के बजाय दवाओं की गुणवत्ता का ध्यान रखना जरूरी है। साथ ही हमें जीविकोपार्जन के लिए और व्यवसाय चलाने के लिए उचित मुनाफा भी रखना ही होगा।
गोष्ठी में गहन चर्चा के बाद फोरम के महामंत्री धर्मेंद्र गुप्ता ने एक 3 सूत्री प्रस्ताव पेश किया। जिसे सदन ने ध्वनिमत से स्वीकार कर लिया। प्रस्ताव मे मांग की गई। अवैध तरीके से थोक लाइसेंस लेकर फुटकर दवाओं का व्यवसाय कर रहे व्यवसायियों पर रोक लगाई जानी चाहिए। थोक व्यवसायियों को यदि फुटकर व्यवसाय करना है तो उन्हें नियमानुसार फुटकर का लाइसेंस प्राप्त करना चाहिए । उसके पहले रिटेलर फोरम सभी थोक दवा व्यवसायियों से अनुरोध करेगा कि वह इस प्रकार के अवैध व्यवसाय को बंद करें। साथ ही वह बिना लाइसेंस की दवा बेच रहे लोगों को भी दवाओं की उपलब्धता रोके। प्रस्ताव में यह भी स्वीकार किया गया कि दवा उपभोक्ताओं की जागरूकता के लिए भी अभियान चलाया जाए। जिससे उन्हें दवा खरीदते समय बरती जाने वाली सावधानियों का पता चल सके।  
 गोष्ठी में स्वीकृत किए गए प्रस्तावों के क्रियान्वयन के लिए 8 सदस्यीय एक्शन कमेटी का भी गठन किया गया। गोष्ठी में विचार रखने वालों में  प्रमुख रूप से रिटेलर फोरम के अध्यक्ष धुरूव जायसवाल, संदीप गुप्ता, अंजनी वर्मा, अमित मौर्य रहे। केमिस्ट एंड कॉस्मेटिक वेलफेयर एसोसिएशन के महामंत्री 
राजेंद्र निगम ने फुटकर दवा व्यवसायियों की समस्याओं से निपटने के लिए हर सहयोग करने की प्रतिबद्धता जताई। अध्यक्ष महेन्द्र गुप्ता ने सभी का आभार व्यक्त किया।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad