रांची में उग्रवादियों के दस्ते ने एक साथ अलग-अलग इलाकों में फायरिंग कर दहशत फैलाने की साजिश रची थी - Ideal India News

Post Top Ad

रांची में उग्रवादियों के दस्ते ने एक साथ अलग-अलग इलाकों में फायरिंग कर दहशत फैलाने की साजिश रची थी

Share This

कमल कुमार कश्यप
 रांची झारखंड बिहार 



एरिया कमांडर कुंवर को दबोचने के बाद नगरी के जंगल में हुई थी पुलिस उग्रवादी मुठभेड़ 

रांची में उग्रवादियों के दस्ते ने एक साथ अलग-अलग इलाकों में फायरिंग कर दहशत फैलाने की साजिश रची थी |उग्रवादियों का एक दस्ता कारोबारियों के घर पर पर्चा फेकता, जबकि दूसरा दस्ता फायरिंग कर दहशत फैलाता| एक टीम का नेतृत्व एरिया कमांडर कुंवर उरांव कर रहा था, जबकि दूसरी टीम का नेतृत्व जोनल कमांडर राजेश गोप कर रहा था| इसी साजिश के लिए एरिया कमांडर कुवर उराव अपने साथियों संग बैठक कर रहा था, इस दौरान डीएसपी नीरज कुमार के नेतृत्व में पहुंची टीम ने वहां से कुवंर सहित पांच को दबोच लिया| इनकी गिरफ्तारी की अधिकारिक पुष्टि एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिया| गिरफ्तार उग्रवादियों में एनकाउंटर में मारे गए दो लाख के इनामी पुनई उरांव का बनोई मुन्ना उरांव भी शामिल है |

बताया गया कि जब पुलिस की टीम पहुंची तो तेज बारिश हो रही थी |कुवर के निशानदेही पर नगड़ी इलाके के चेटे जंगल में पुलिस पहुंची| पुलिस को देखते ही जोनल कमांडर राजेश गोप उर्फ तिलकेश्वर गोप के दस्ते ने फायरिंग शुरू कर दी| इस मुठभेड़ में पुलिस की ओर से 18 राउंड फायरिंग की गई, जबकि उग्रवादियों के तरफ से आठ से 10 राउंड फायरिंग की गई, हालांकि पुलिस को हावी होता देख उग्रवादी फरार हो गए |
पुलिस के अनुसार मुठभेड़ में पीएलएफआई जोनल कमांडर राजेश गोप, नगरी भंडरा टोली निवासी सुजीत कश्यप उर्फ टीटी, राहुल कश्यप, खुटी के कऱरा निवासी बिरसा तांबा, कांडा मुंडा उर्फ अमर मुंडा शामिल हुए |सभी मोके  से फरार हो गए |देर रात वहां पुलिस ने सर्च अभियान भी चलाया|

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad