पूर्व बिधायक के मिली भगत से जैतपुरा पम्प कैनाल के अस्थाई ब्यवस्था हेतु जारी की गई राशि की हुई लूट की कराएंगे जांच। - Ideal India News

Post Top Ad

पूर्व बिधायक के मिली भगत से जैतपुरा पम्प कैनाल के अस्थाई ब्यवस्था हेतु जारी की गई राशि की हुई लूट की कराएंगे जांच।

Share This
#IIN

विश्वनाथ प्रसाद गुप्ता,ब्यूरो चीफ बिहार  व दीपक कुमार गुप्ता ब्यूरो चीफ कैमूर की संयुक्त रिपोर्ट।








जैतपुरा व तियरा पम्प कैनाल का निरीक्षण करने के बाद बोले रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह।

पूर्व बिधायक के मिली भगत से जैतपुरा पम्प कैनाल के अस्थाई ब्यवस्था हेतु जारी की गई राशि की हुई लूट की कराएंगे जांच।

स्थाई ब्यवस्था के तहत चल रहे कार्य मे नही होने देंगे राशि की कमी।

 कार्यपालक अभियंता से कहा किसानों के हित मे तैयार हो नहरों की संरचना।


पटना/कैमूर। रामगढ़ से राजद के बिधायक व राजद के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सिचाई मंत्री जगदानन्द के पुत्र सुधाकर सिंह ने क्षेत्रीय किसानों के साथ नुआंव प्रखण्ड की चिर परचित व महत्वाकांक्षी योजना जैतपुरा व तियरा पम्प कैनाल का निरीक्षण किया। सिंचाई  व्यवस्था को सुदृढ करने हेतु दोनो योजनाए को शत प्रतिशत धरातल पर उतारने को लेकर कैनाल पर पहुंचे स्थानीय विधायक सुधाकर सिंह पहले जैतपुरा कैनाल पर पहुचे और  जायजा लेने के बाद बीजेपी के पूर्व क्षेत्रीय बिधायक अशोक कुमार सिंह पर संवेदक से मिलकर अस्थाई ब्यवस्था हेतु सरकार द्वारा जारी की गई राशि को लूटने का आरोप लगाया।उन्होंने कहा कि अस्थाई ब्यवस्था के तहत कैनाल को चालू करने हेतु बिभाग ने 1करोड़ 55 लाख रुपया निर्गत किया था।जिसको पूर्व बिधायक व तत्कालीन डीएम ने संवेदक से मिली भगत कर योजना की अधिकांश राशि लूट ली है।जिसके कारण योजना फ्लॉप हो गया।जबकि 4 लाख 26 हजार से वैकल्पिक ब्यवस्था के तहत चौसा वराज की स्थापना कर किसानों के खेतों को पानी दी जा रही है।जो राजद सरकार की कार्य पद्धति व खरीदी गई मोटर से संभव है।उन्होंने कहा कि स्थाई ब्यवस्था के तहत लगभग 40 करोड़ की राशि से जैतपुरा कैनाल को पुनर्जीवित किया जा रहा है।जिसमे राशि की कमी नही होने दी जाएगी।वही अभियंताओं को निर्देश दिया कि किसानों के हित मे रखते हुवे उनके सुझाव के अनुसार नहरों की संरचनाकर तैयार किया जाय।इसके बाद बिधायक तियरा पम्प कैनाल का दौरा किया। और लगभग 55 करोड़ की राशि से नए सिरे से हो रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया। अधिकारियों से कहा कि कार्य में तेजी लाएं और जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूरा करे।ताकि किसानों के खेत को पानी मिलना शुरू हो। उन्होंने मौजूद किसानों व अभियंताओं  को आश्वस्त किया कि कैनाल को पुनर्जीवित करने के लिए संचालित परियोजनाओ को पूरा करने में राशि की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। इसका मैं आप लोगो को भरोसा दिलाता हूं कि सरकार से लड़कर अपने क्षेत्र के विकास के लिए राशि उपलब्ध कराउंगा।जरूरत पड़ी तो अपने विवेकाधीन कोटे की राशि खर्च करने में भी नही हिचकुंगा।सिर्फ आप लोगो को इस बात का ध्यान देना है कि किसानों के खेत तक पानी आसानी से पहुंचे।  किसानों की मांग पर उन्होंने नहर में जगह जगह माइनर और आउट लेट एवं वितरणी तथा पुल पुलिया बनवाने का निर्देश मौजूद सिविल के कार्यपालक अभियंता चंचल कुमार को दिया। बिधायक के साथ  प्रदेश अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के महासचिव हारून अंसारी, प्रखण्ड अध्यक्ष जितेंद्र खरवार, युवा अध्यक्ष जयप्रकाश यादव, वरिष्ठ नेता बबन लाल अवध बिहारी सिंह रिजवान खाँ गणेश चौधरी अरविंद यादव लाल बहादुर राम,
सहित कई पार्टी के नेता कार्यकर्ता व किसान लोग थे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad