कोरोना काल मे नीबू से इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाएं। - Ideal India News

Post Top Ad

कोरोना काल मे नीबू से इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाएं।

Share This
#IIN 

कमल कुमार कश्यप 
रांची झारखंड बिहार।

कोरोना काल मे नीबू से इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाएं। 



                                            
प्रधाना आर्य समाजी श्रीमती सुशीला गुप्ता जी कोरोना महामारी के समय नींबू की उपयोगिता को बताते हुए कहा कि नींबू एक फायदे अनेक - नींबू का इस्तेमाल हम हजारों वर्षों से करते आ रहे हैं। यह बेहद सस्ता है और सेहतमंद है। वास्तविकता में नींबू गुणों की खान है। सेहत बढ़ाने के साथ-साथ यह सौंदर्यवर्धक भी है। नींबू में कागजी नींबू सर्वोत्तम माना जाता है, लेकिन अगर कागजी नींबू न मिले तो जमेली नींबू को उपयोग में लाया जा सकता है। यह आसानी से उपलब्ध हो जाता है और पौष्टिकता की दृष्टि से भी काफी पोषक तत्व इसमें पाए जाते हैं। जैसे-100 मिलीलीटर खट्टे नींबू के रस में आर्द्रता- 84.6 ग्राम, प्रोटीन- 1.5 ग्राम, वसा- 1.0 ग्राम, लवण- 0.7 ग्राम ,1.3 ग्राम, कार्बोहाइड्रेट- 10.9 ग्राम, ऊर्जा-59 किलो कैलोरी, कैल्शियम- 9 मिलीग्राम, फास्फोरस- 200 मिलीग्राम, आयरन- 0.3 मिलीग्राम, थायमिन- 0.02 मिलीग्राम, राइबोफ्लेविन- 0.03 मिलीग्राम, नियासिन- 0.1 मिलीग्राम होता है। नींबू के रस का सेवन लगभग सभी लोग करते हैं। कुछ लोग इसे स्वाद के लिए पीते हैं तो कुछ लोग अपनी प्यास बुझाने के लिए पीते हैं। नींबू के रस के अनेक फायदे हैं। जैसे- यदि गर्म पानी शहद और नींबू सुबह के समय खाली पेट लिया जाए तो शरीर का वजन कम होता है। ठंडा पानी शहद और नींबू अगर शाम को पिया जाए तो इससे शरीर का वजन बढ़ता है। नींबू का रस हमारे पूरे शरीर की सफाई भी करता है यानी कब्ज की शिकायत दूर होती है। इससे पेट के क्रीमी भी नष्ट हो जाते हैं। नींबू के रस के सेवन से हमारे शरीर में कभी भी पानी की कमी नहीं होती है। इसलिए प्रतिदिन एक नींबू के रस का सेवन अवश्य करना चाहिए। नींबू का रस हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। भोजन का पाचन शरीर में भली-भांति होता है क्योंकि इसकी सुगंध से भूख बढ़ती है और जब इसके रस का प्रयोग प्याज के साथ  किया जाता है तो भोजन ज्यादा स्वादिष्ट लगता है। नींबू में "विटामिन- सी" भरपूर मात्रा में पाया जाता है।इसके सेवन से हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है, जिसकी वर्तमान समय में कोविड-19 जैसी महामारी को हराने के लिए अत्यंत आवश्यकता है। क्योंकि यह व्यक्ति के शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत बनाता है। हमें साधारण सर्दी- जुकाम भी नहीं होता है। नींबू के रस का प्रतिदिन सेवन करने से शरीर में कभी भी खून की कमी नहीं होने पाती क्योंकि यह शरीर में ली जा रही आयरन का अवशोषण करने में मदद करता है। नींबू के रस के नियमित सेवन से दिल की बीमारी नहीं होती।उच्च रक्तचाप भी कम हो जाता है।मधुमेह के रोगियों को प्रतिदिन एक नींबू के रस का सेवन अवश्य करना चाहिए क्योंकि यह शरीर में इंसुलिन के प्रति संवेदनशील बन जाता है यानी इंसुलिन का उत्पादन  होने लगता है और रक्त में शर्करा की मात्रा कम हो जाती है। नींबू का रस हमारी त्वचा में झुर्रियां पड़ने से भी रोकता है जिसके कारण त्वचा चिकनी और चमकदार बनी रहती है। नींबू का रस या शिकंजी पीने से पीलिया रोग से मुक्ति पाने में मदद मिलती है। कुछ दिनों तक इसके नियमित सेवन से पीलिया जैसी बीमारी से पूरी तरह छुटकारा पाया जा सकता है। पुरानी खांसी की हालत में नींबू के रस से फायदा होता है। इसके सेवन से कफ़ बाहर निकल जाता है। नींबू को बीच से काटकर आग या गैस पर भूनकर फिर इस का गरम-गरम रस शहद के साथ मिलाकर दिन में तीन चार बार सेवन करें तो  कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने के बाद उनके गले की खराश और खांसी में आराम देता है। नींबू के रस के सेवन से किडनी स्वस्थ रहती है।उसमें पथरी नहीं बन पाती क्योंकि नींबू में साइट्रिक एसिड पाया जाता है। नींबू का नियमित सेवन हमें कैंसर जैसी बीमारी से भी बचा सकता है। प्रतिदिन अगर दांतों पर एक चम्मच नींबू  का रस में गुलाब जल और आधा चम्मच नमक मिलाकर मालिश की जाए तो दांतों के स्वास्थ्य में सुधार किया जा सकता है। नींबू का रस, शहद और गुलाब जल मिलकर बढ़िया फेस पैक तैयार हो जाता है जो हमारे सौंदर्य की आभा बढ़ाता है। नींबू के बचे हुए छिलके नाखून पर लगाने से मजबूत और चमकदार नाखून होते हैं। 
इस तरह नींबू हमारे लिए सेहत के साथ-साथ साथ सौंदर्य-वर्धक भी है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad