कोरोना की उत्‍पत्ति के मसले पर अमेरिका और ब्रिटेन ने चीन की गहराई से जांच की अपील की - Ideal India News

Post Top Ad

कोरोना की उत्‍पत्ति के मसले पर अमेरिका और ब्रिटेन ने चीन की गहराई से जांच की अपील की

Share This
#IIN


जेनेवा
अमेरिका और ब्रिटेन ने फिर आगे बढ़कर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) से वैश्विक महामारी कोविड-19 की उत्पत्ति के स्रोत की संभावनाओं को गहराई से देखने को कहा है। इन दोनों महाशक्तियों की इस मांग में पहले मानव संक्रमण के केस वाले चीन का नए सिरे से दौरा करना भी शामिल है। वहीं कानूनविदों की संस्था आइसीजे ने डब्ल्यूएचओ से कहा है कि वह कोविड-19 से जुड़ी सभी वैज्ञानिक और चिकित्सकीय सूचनाओं को लेकर श्वेत पत्र जारी करे।

उल्लेखनीय है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन और चीनी विशेषज्ञों ने गत मार्च में जारी अपनी संयुक्त जांच रिपोर्ट में इस वैश्विक महामारी की उत्पत्ति को लेकर चार परिकल्पनाएं रखीं थीं। संयुक्त जांच दल ने कहा कि था कि संभवत: चमगादड़ से होते हुए यह वायरस किसी और जानवर में होते हुए मनुष्य में पहुंचा है। उन्होंने इस आशंका को पूरी तरह से खारिज कर दिया कि यह वायरस किसी लैब से आया हो सकता है।

गुरुवार को देर रात जेनेवा में अमेरिकी कूटनीतिक मिशन ने बयान जारी करके जांच के पहले चरण को अपर्याप्त और अधूरा बताया। साथ ही कहा कि विशेषज्ञों के नेतृत्व वाले जांच के दूसरे चरण में समयबद्ध, पारदर्शी, साक्ष्य आधारित और विशेषज्ञों की राय पर आधारित बातें होंगी जिसमें चीन भी शामिल होगा। यह बयान जेनेवा में डब्ल्यूएचओ की वार्षिक महासभा के बीच आया है। इस दौरान अमेरिका ने वायरस के स्रोत और उसके शुरुआती संक्रमण के संपूर्ण, वास्तविक आंकड़े और नमूनों की मांग की है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad