अत्यंत दुखद: ,ढह गया जौनपुर जिले की पत्रकारिता का सबसे मजबूत स्तंभ - Ideal India News

Post Top Ad

अत्यंत दुखद: ,ढह गया जौनपुर जिले की पत्रकारिता का सबसे मजबूत स्तंभ

Share This
#IIN
डा प्रमोद वाचस्पति जौनपुर
ढह गया जौनपुर जिले की पत्रकारिता का सबसे मजबूत स्तंभ


जौनपुर। जिले की पत्रकारिता का सबसे मजबूत स्तंभ आज ढह गया , जनपद से पहला हिंदी दैनिक और उर्दू दैनिक अख़बार प्रकाशित करने वाले तरुण मित्र अखबार के सम्पादक कैलाश नाथ 84 वर्ष का आज शाम करीब छह बजे निधन हो गया, वे कई दिनों से विमार चल रहे थे। उनके मौत की खबर मिलते ही जनपद में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। 

जिले में पत्रकारिता की अलख जलाने वाले कैलाशनाथ का जीवन काफी संघर्ष पूर्ण रहा है , शुरुवाती दौर में उन्होंने बाटा शो रूम में नौकरी किया था , उसके बाद जिले  से प्रकाशित होने वाले समय साप्ताहिक अख़बार में कम्पोजिटर का काम किया। यही से पत्रकारिता का ककहरा सीखने के बाद आठ अक्टूबर 1978 को तरुण मित्र के नाम से पहला दैनिक अख़बार का प्रकाशन शुरू किया , उसके बाद जवां दोस्त नामक उर्दू संस्करण में अख़बार शुरू किया। कैलाशनाथ ने अपनी कठिन परिश्रम से तरुण मित्र अख़बार को चरम पर पहुंचा दिया। आज यह अख़बार जौनपुर , लखनऊ , फ़ैजाबाद , पटना , मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र से प्रकाशित हो रहा है। 

पत्रकारिता के साथ कैलाशनाथ एक सच्चे समाज सेवी भी थे , वे असहाय सहायता समिति संस्था का गठन करके लावारिश लाशो के वारिश बन गया। जिले में मिलने वाले लावारिश लाशो का अंतिम संस्कार इनकी संस्था कराती रही। अब तक यह संस्था करीब तीन हजार से अधिक लाशो का क्रियाक्रम कर चुकी है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad