राजस्थान के खिलाफ मैच में उतरते ही Dhoni ने रचा इतिहास - Ideal India News

Post Top Ad

राजस्थान के खिलाफ मैच में उतरते ही Dhoni ने रचा इतिहास

Share This
#IIN




 आइपीएल 2021 में सोमवार को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में उतरते ही चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी (MS Dhoni) ने इतिहास रच दिया। चेन्नई के कप्तान के तौर पर यह उनका 200वां मैच था। पिछले मैच में वह चेन्नई के लिए 200वां मैच खेले थे। यह सिलसिला यहीं थमने वाला नहीं है। आइपीएल में नौ मैच खेलने के बाद वह फिर कप्तान के तौर पर 'दोहरा शतक लगाएंगे'। यानी आइपीएल करियर में वह बतौर कप्तान  200 मैच खेल लेंगे। अब तक वह 191 मैच बतौर कप्तान खेल चुके हैं। 2008 से आइपीएल में धौनी ने अबतक चेन्नई के लिए 177 मैचों में कप्तानी की है। वहीं राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स (RPS) के लिए वह 14 मैचों में कप्तानी कर चुके हैं। 

स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के बाद चेन्नई और राजस्थान रॉयल्स की टीम पर दो साल का बैन लगा, तो राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स (RPS) और गुजरात लायंस दो टीमें बनीं। 2016 और 2017 में दोनों टीमों ने आइपीएल में हिस्सा लिया। साल 2016 में धौनी राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के कप्तान थे। इस दौरान टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा। वहीं 2017 में स्टीव स्मिथ कप्तान थे और टीम फाइनल तक पहुंची थी। दो साल के बैन के बाद 2018 में चेन्नई और राजस्थान की आइपीएल में वापसी हुई। राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स (RPS) और गुजरात लायंस की टीम आइपीएल से हट गईं।

धौनी ने चेन्नई के लिए बतौर कप्तान कल 200 वां मैच खेला। वह चैपियंस लीग में चेन्नई के लिए 23 मैच में कप्तानी कर चुके हैं। चैपियंस लीग के एक मैच में वह सुरेश रैना की कप्तानी में चेन्नई के लिए मैच खेले हैं। इस टूर्नामेंट का 2014 के बाद से आयोजन नहीं हो रहा है। कप्तान के तौर पर चेन्नई को वह पांच ट्रॉफी दिला चुके हैं। उन्होंने इस फ्रेंचाइजी को तीन बार आइपीएल का खिताब और दो चैंपियंस लीग का खिताब दिलाया है। हालांकि पिछला सीजन टीम के लिए अच्छा नहीं रहा था। टीम पहली बार प्लेऑफ में नहीं पहुंची थी। चेन्नई की टीम ने धौनी को बतौर कप्तान 200वें मैच में शानदार जीत का तोहफा दिया। राजस्थान को 45 रनों से हरा दिया। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad