संदिग्ध परिस्थिति में फ्लैट में लगी आग मासूम की मौत - Ideal India News

Post Top Ad

संदिग्ध परिस्थिति में फ्लैट में लगी आग मासूम की मौत

Share This
#IIN



Manoj Bhatnagar     

 लोनी 

कोतवाली क्षेत्र में हयात एंक्लेव कालोनी की बिल्डिंग के एक फ्लैट में रविवार दोपहर संदिग्ध परिस्थिति में आग लगने से पांच वर्षीय मासूम की मौत हो गई। जबकि परिवार के पांच लोग गंभीर रूप से झुलस गए। सभी का दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में उपचार जारी है। पुलिस मासूम का शव पोस्टमार्टम को भेजकर मामले की जांच में जुटी है।

हयात एंक्लेव कालोनी की एक बिल्डिंग के बी-सात फ्लैट में जानी परिवार के साथ रहते थे। नौ माह पूर्व हृदय गति रुकने से उनकी मौत हो गई थी। इसके बाद बेटा अली चाय का खोखा चलाकर अपनी मां फातिमा, बेटी रानी का पालन करता है। पिता की मौत के बाद बड़ी बहन हिना, बहनोई बिलाल, भांजी माहिरा और भांजा उमर भी उनके साथ रहने लगे। रविवार दोपहर करीब दो बजे अली अपनी छोटी बहन रानी को खोखे पर छोडकर घर खाना खाने पहुंचा।

अचानक लगी आग : पड़ोसियों के मुताबिक करीब ढाई बजे उनके फ्लैट से धमाके के साथ तेज लपटें उठती दिखाई दीं। फ्लैट का दरवाजा खुला तो अली, फातिमा और बिलाल फ्लैट से बाहर की ओर भागे। लेकिन वह फ्लैट से बाहर निकलते ही गिर गए। शोर सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया। इसी दौरान हिना ने बिल्डिंग की पिछली दीवार कूद कर अपनी जान बचा ली। लोगों ने घटना की सूचना पुलिस, दमकल विभाग और एंबुलेंस को दी। पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भेजा। साथ ही लोगों की मदद से अंदर फंसे उमर की जान बचाई। हिना ने बताया कि माहिरा दूसरे कमरे में सोई है। पुलिस कर्मी उसे बचाने पहुंचे। लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी।

-- अधिकारियों ने किया मुआयना : जानकारी मिलने पर उपजिलाधिकारी शुभांगी शुक्ला, पुलिस क्षेत्राधिकारी अतुल कुमार सोनकर, तहसीलदार प्रकाश सिंह ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। उपजिलाधिकारी ने बताया कि दमकल विभाग की प्रारंभिक जांच में सिलेंडर के लीकेज होने से आग लगने का मामला सामने आया है। पुलिस और राजस्व विभाग की टीम मामले की जांच कर रही है। जांच रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad