नई दिल्ली- मौत के बाद कोरोना के डर से शव लेने नहीं आए परिवारवाले - Ideal India News

Post Top Ad

नई दिल्ली- मौत के बाद कोरोना के डर से शव लेने नहीं आए परिवारवाले

Share This
#IIN



DR AK GUPTA

नई दिल्ली

 राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण की दर बढ़ने के साथ ही लोगों में कोरोना के प्रति खौफ भी बढ़ता दिख रहा है। संवेदनहीनता का ऐसा ही एक मामला दक्षिणी दिल्ली में सामने आया है, जहां लिवर की बीमारी से महिला की मौत होने के बावजूद स्वजन कोरोना के डर से शव लेने अस्पताल नहीं आए। यही नहीं उन्होंने अस्पताल में न सिर्फ पता गलत लिखवाया बल्कि मौत होने की सूचना मिलते ही मोबाइल भी बंद कर दिया है। अब दो थाने की पुलिस छह दिन से महिला के स्वजन को तलाश रही है।

मालवीय नगर के पंडित मदन मोहन मालवीय अस्पताल के डॉ. माधव के मुताबिक 38 वर्षीया महिला झूमा देबनाथ को उनके स्वजन ने 18 मार्च को भर्ती कराया था। महिला में कोरोना के शुरुआती लक्षणों को देखते हुए जांच की गई, लेकिन रिपोर्ट नेगेटिव आई। जांच में पता चला कि महिला का लिवर खराब है, जिसका डॉक्टरों ने इलाज किया। इसके बावजूद 28 मार्च को महिला की मौत हो गई। इस पर अस्पताल प्रबंधन ने भर्ती के समय दर्ज कराए गए मोबाइल नंबर पर संपर्क करके महिला की मौत होने की जानकारी दी। देर शाम तक जब कोई भी शव लेने नहीं आया तो दोबारा फोन किया गया, लेकिन मोबाइल फोन बंद मिला।

महिला के आधार कार्ड में असम का पता लिखा हुआ है। अस्पताल की टीम जब दिए गए पते पर पहुंची तो वहां भी दर्ज कराए गए नाम पते का कोई व्यक्ति नहीं मिला। इसके बाद अस्पताल प्रशासन ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि गोविंद पुरी और मालवीय नगर थाना पुलिस महिला के स्वजनों का पता लगाने का प्रयास कर रही है। यदि महिला के परिवार वाले नहीं मिलते हैं तो पुलिस नियमानुसार कार्रवाई करेगी।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad