कोरोनाकाल में चेतावनी के बावजूद मेदिनीनगर में लापरवाही; बड़ी आबादी बिना मास्क के निकल रही घर से बाहर - Ideal India News

Post Top Ad

कोरोनाकाल में चेतावनी के बावजूद मेदिनीनगर में लापरवाही; बड़ी आबादी बिना मास्क के निकल रही घर से बाहर

Share This
#IIN

श्रवण सेठी
 मेदिनीनगर (झारखंड) 

कोरोनाकाल में चेतावनी के बावजूद मेदिनीनगर में लापरवाही; बड़ी आबादी बिना मास्क के निकल रही घर से बाहर




कोरोना दिन-ब-दिन भयावह होता जा रहा है। इसके आंकड़े रोज बढ़ते जा रहे हैं। पर लोग मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के प्रति बिल्कुल लापरवाह नजर आ रहे हैं। ऐसा ही हाल पलामू में देखने को मिला। पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर में सड़क पर निकलने वालों में से आधे ही मास्क पहने दिखे। मास्क का उपयोग नहीं करने वालों में युवक-युवती, बुजुर्ग, महिला-पुरुष सभी आयु वर्ग के लोग शामिल हैं। यह हाल तब है जब बुधवार को SDO ने छहमुहान पर मास्क की चेकिंग की थी। लोगों की यह लापरवाही कोराेना के रोकथाम के उपाय को विफल कर सकता है।

बताते चलें कि मास्क पहनना, सैनिटाइजर का उपयोग करना व सोशल डिस्टेंसिंग काेरोना से बचने का कारगर उपाय है। छहमुहान पर इक्के-दुक्के पुलिस वालों की मौजूदगी के बाद भी मास्क न पहनने वालों में किसी तरह का भय नहीं था। दुकानों में भी यही हाल था। कुछ लोग मास्क पहन कर खरीदारी कर रहे थे तो कुछ बिना मास्क के। पुलिसकर्मी कुछ जगहों पर लोगों को मास्क नहीं पहनने पर उन्हें डांटते भी नजर आए।

मेदिनीनगर में आधा दर्जन शॉपिंग मॉल हैं। जहां ग्राहकों को बिना मास्क की एंट्री नहीं दी जा रही। लेकिन लापरवाही का आलम यह है कि लोग मॉल में मास्क पहन कर तो अंदर जा रहे हैं पर फिर उसे उतार देते हैं। भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा। एक बेंच पर कई कस्टमर एक दूसरे के बिल्कुल नजदीक में बैठे मिले।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad