अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता परिषद ने आयोजित किया होलीमिलन व सम्मान समारोह : - Ideal India News

Post Top Ad

अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता परिषद ने आयोजित किया होलीमिलन व सम्मान समारोह :

Share This
#IIN

अखिलेश मिश्र "बागी"

:-अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता परिषद ने आयोजित किया होलीमिलन व सम्मान समारोह :-





मिर्जापुर शहर के तहसील चौराहा  स्थित सुरभि गेस्टहाउस के सभागार में अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता परिषद का होली मिलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन सम्पन्न हुआ कार्यक्रम का सुभारम्भ श्री भगवान परशुराम जी के फोटो पर   माल्यार्पण व दीपप्रज्वलन  मुख्य अतिथि नगर विधायक पं. रत्नाकर मिश्र के द्वारा किया गया समारोह में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य नेता द्वय पं.बालेंदुमणि त्रिपाठी व पं. धनंजय पाण्डेय व जुबिली इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य राजेन्द्र त्रिपाठी को माल्यार्पण करने के बाद अंगवस्त्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया कार्यक्रम में कई वक्ताओं  ने अपने बिचार ब्यक्त किये । 



  पं.गंगासागर दुबे का रहा दमदार भाषण :-
पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष  गंगासागर दुबे ने अपने भाषण में ब्राम्हण समाज के लिए आवश्यक हर बिंदुओं के ऊपर बोलते हुए कहा कि सारी जातिया मनुस्मृति का विरोध करती है लेकिन इसे पढा किसी ने नही, उन्होंने आज के ब्राम्हणो के आहार बिचार पर ध्यान देने की आवश्यकता है  जब भी समाज की बैठक हो इस पर चर्चा जरूर होनी चाहिए , केबी महाविधालय के प्रो.रमेश ओझा ने ब्राम्हण युवाओ से तप करने पर जोर दिया क्योंकि जप तप ही ब्राम्हण की शक्ति है
महिला प्रकोष्ठ की रही दमदार उपस्थिति :-
कोरोना संक्रमण को देखते हुए सीमित लोगो को बुलाया , गया था इसके बावजूद ब्राम्हण समाज के महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष बिमला शर्मा के नेतृत्व में भारी संख्या में ब्राम्हण परिवार की महिला उपस्थित रही और अपने ब्राम्हण समाज के नगर विधायक व बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति सदस्य के साथ सभी लोगो ने फ़ोटो भी खिंचाया ।
समाज के द्वारा मिले सम्मान से भावविभोर हुए नेता गण:-
 अपने ब्राम्हण परिवार में मिले सम्मान से पं. बालेंदुमणि त्रिपाठी ने भावविभोर होकर अपने बिचार ब्यक्त करते हुए आज मिर्जापुर के लालगंज क्षेत्र के ब्राह्मण आईएएस  राष्ट्रपति महोदय के सचिव है  ब्राम्हण जाति नही एक विचारधारा है मुगलो से ज्यादा अंग्रेजो ने ब्राम्हणों के ऊपर सबसे ज्यादा प्रहार किया गया क्योकि वह जानते थे कि ब्राम्हण पूरे देश  के संस्कृति की धुरी है भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य नेता पं.धनंजय पाण्डेय ने ब्राम्हण समाज के लिए वह सदा समर्पित है  
नगर विधायक ने खेली पुष्प होली :-
कार्यक्रम के समापन में नगर विधायक पं. रत्नाकर मिश्र ने फूलो के साथ प्रसन्न मुदा में सबके साथ होली खेली अपने बीच मे नगर के लोकप्रिय व सरल विधायक को पाकर लगभग सभी लोगो ने उनके साथ फोटो लेकर आशीर्वाद लिया । 
श्रीमती सुभ्रा त्रिपाठी ने गाया ब्राम्हण एकता पर गीत:- 
ब्राम्हण समाज कैसे एकजुट हो इसके लिए स्वरचित गीत सुभ्रा त्रिपाठी के द्वारा गाया गया जिसके एक एक लाइन में ब्राम्हण एकता का मंत्र छिपा था ।
संरक्षक डॉ. एस. एन. पाठक को सबने दिया साधुवाद :-
होलीमिलन व अपने समाज के लोगो को सम्मानित करने और सभी विप्रो को एकजुट करने के प्रयास के लिए आये हुए सभी लोगो ने डॉ. पाठक को साधुवाद दिया । दूर दराज के गांव से आये लोगो ने कहा कि जब भी कार्यक्रम करेंगे वह जरूर आएंगे ।
पं. माताप्रसाद दुबे, पं. सूर्यकांत तिवारी किये गए याद :-
बातों के दौरान पिछले वर्ष के कार्यक्रम की चर्चा हुई तो अपने बीच मे इस बार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता स्व.माता प्रसाद दुबे व एलआईसी में वाराणसी मण्डल में डंका बजाने बाले स्व.सूर्यकांत तिवारी के निधन से सभी दुःखी नजर आए लोगो ने पुरानी यादो का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी सक्रियता  कार्यक्रम को सफल बनाती थी ।
कार्यक्रम का संचालन अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता परिषद के संरक्षक डॉ. एस. एन. पाठक , व अध्यक्षता ई.शेषमणि चौबे ने किया ,भगवान श्री परशुराम की पूजा मंत्रोचार सहित कर्मकांड के प्रकाण्ड विद्वान पं. बाबुल नाथ त्रिपाठी ने किया कार्यक्रम में आये हुए सभी ब्राम्हणों का धन्यवाद , कार्यक्रम संयोजक संभु नाथ तिवारी (नन्हे)के द्वारा किया गया । कार्यक्रम में मुख्य रूप से मण्डल अध्यक्ष सूर्यप्रकाश शुक्ला, केशव तिवारी, नन्हे तिवारी , विनय पाण्डेय , अश्विनी त्रिपाठी, मुन्नू लाल दुबे , श्री धर पाण्डेय , श्रीमती  संतोष मिश्रा, सुरेंद्र दुबे , नरेश शर्मा , महेंद्र दुबे , मनोज शुक्ला
सहित सैकड़ो ब्राम्हण समाज के लोग उपस्थित रहे ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad