छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में शहीद का पार्थिव शरीर विमान से लाया गया वाराणसी - Ideal India News

Post Top Ad

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में शहीद का पार्थिव शरीर विमान से लाया गया वाराणसी

Share This
#IIN
डा यू एस भगत वाराणसी
छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में शहीद का पार्थिव शरीर विमान से लाया गया वाराणसी




वाराणसी । नक्सली हमले में शहीद सीआरपीएफ के जवान धर्मदेव कुमार का पार्थिव शरीर सोमवार को विमान द्वारा वाराणसी एयरपोर्ट पर लाया गया। एयरपोर्ट पर सीआरपीएफ के डीआईजी मनीष सच्चर, 95 बटालियन के कमांडेंट अनिल कुमार बृक्ष, डीसी महेंद्र मिश्रा, इंस्पेक्टर दीपक सिन्हा सहित अन्य लोगों ने पुष्प अर्पित कर शहीद को नमन किया। उसके बाद सीआरपीएफ के जवान शहीद के पार्थिव शरीर को लेकर चंदौली के लिये प्रस्थान किये। अधिकारियों बताया कि पर्थिव शरीर रात में चंदौली स्थित सीआरपीएफ के ग्रुप सेंटर में ही रखा जायेगा। मालूम हो कि शनिवार को दोपहर में छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में नक्सलियों ने सीआरपीएफ के जवानों पर हमला कर दिया था। जिसमें अन्य जवानों के साथ ही चंदौली जिले के ठेकहां गांव निवासी धर्मदेव कुमार (34) भी शहीद हो गये थे। अधिकारियों ने बताया कि धर्मदेव सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन में तैनात थे। शहीद जवान का पार्थिव शरीर छत्तीसगढ़ से पहले दिल्ली लाया गया और फिर दिल्ली एयरपोर्ट से इंडिगो एयरलाइंस के विमान 6ई 2515 से रा​त्रि 9 बजे वाराणसी एयरपोर्ट पर लाया गया। एयरपोर्ट के एयर कार्गो टर्मिनल के बाहर मौजूद अधिकारियों ने पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर धर्मदेव कुमार की शहादत को नमन किया। उसके बाद 9.30 बजे सीआरपीएफ के वाहन में पार्थिव शरीर रखकर, जवान चंदौली के लिये प्रस्थान कर गये। अधिकारियों ने बताया कि रात हो जाने के चलते एयरपोर्ट पर शहीद जवान को सलामी नहीं दी जा सकी। पार्थिव शरीर रात में चंदौली स्थित सीआरपीएफ के ग्रुप सेंटर में रखा जायेगा। मंगलवार को सुबह में ग्रुप सेंटर या फिर घाट पर सलामी दी जायेगी। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों संग मुठभेड़ में शहीद सीआरपीएफ जवान धर्मदेव कुमार की शहादत की सूचना मिलने के बाद शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लग गया। जिलाधिकारी संजीव ङ्क्षसह व एसपी अमित कुमार रात में ही शहीद के गांव पहुंचे। सोमवार की सुबह चकिया ग्रुप सेंटर के सीआरपीएफ कमांडेंट रामलखन पहुंचे। अधिकारियों ने शोक संतप्त परिजनों से बात कर ढांढस बंधाया। कहा दुख की घड़ी में प्रशासनिक अमला शहीद के परिजनों के साथ है। सरकार की ओर से जो भी मदद की घोषणा की जाएगी, उसे शहीद के आश्रितों को दिलाया जाएगा। प्रशासन भी अपने स्तर से हरसंभव मदद का प्रयास करेगा। एसडीएम अजय कुमार, एएसपी आपरेशन अनिल कुमार, तहसीलदार फूलचंद यादव, सीओ प्रीति तिवारी, कानूनगो बृजेश मिश्रा और हल्का लेखपाल तौफिक अहमद मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad